Gay डेटिंग ऐप पर फंसाकर संबंध बनवाता था गिरोह, फिर वीडियो से ब्लैकमेलिंग, 6 अरेस्ट

Swati Gautam, Last updated: Mon, 24th Jan 2022, 9:09 PM IST
  • मध्यप्रदेश में एक गिरोह का पर्दाफाश हुआ है जो GAY (समलैंगिक) डेटिंग एंड वीडियो चैटिंग ऐप के जरिए अपने आस पास के इलाकों से समलैंगिक युवकों को सुनसान जगह पर बुलाते और उनसे संबंध बनाते. उसकी वीडियो बनाकर बाद में युवकों को ब्लैकमेल करते. पुलिस ने मामले में छह आरोपियों को अरेस्ट किया है जिसमें दो नाबालिग हैं.
Gay डेटिंग ऐप से युवकों को फंसाकर संबंध बनवाता था गिरोह (file photo)

इंदौर. मध्यप्रदेश में GAY (समलैंगिक) डेटिंग एंड वीडियो चैटिंग ऐप से सेक्सटॉर्शन का मामला सामने आया है. दो युवकों ने पुलिस ने शिकायत दर्ज कराते हुए बताया कि एक इंटरनेशनल लेवल के 'Blued' ऐप पर एक पूरा गिरोह सक्रिय है जो लोगों को ऐप पर प्रोफाइल बनाकर अपने आस-पास के इलाके के गे यानी समलैगिंक युवाओं को सुनसान जगह बुलाते और उनसे संबंध बनाते. उस दौरान आरोपी छुप कर उनकी वीडियो भी बना लेते और बाद में युवकों को वीडियो वायरल करने की धमकी देकर ब्लैकमेल करते हैं. मामला पुलिस के संज्ञान में आती है जांच शुरू की गई जिसमें पुलिस ने गुना ने 6 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है इनमें दो नाबालिग हैं.

पुलिस ने गे ऐप से जुड़े सेक्सटॉर्शन मामले में जिन आरोपियों को गिरफ्तार किया है इनमें मध्य प्रदेश के गुना से 20 साल का बंटी केवट, 21 साल का टीकम साहू, 19 साल का अनिकेत रजक और 29 साल का नीरज राठौर शामिल है. इस गैंग का सिर्फ एक बदमाश गे है. इन पर आरोप है कि GAY (समलैंगिक) डेटिंग एंड वीडियो चैटिंग ऐप से अपने आस पास की लोकेशन के सहारे लोगों के के संपर्क में आते और उनसे संबंध बनाए जाते और उनकी वीडियो बना ली जाती थी. फिर ब्लैकमेलिंग का खेल शुरू होता था. उसी वीडियो के जरिए ब्लैकमेल कर पैसे मांगे जाते थे. रिपोर्ट दर्ज कराने वाले दो युवकों में से एक से की आरोपियों ने सोने की चेन तक छीन ली थी और एक से 50 हजार रुपए वसूले थे.

VIDEO: शादी में अचानक आई मौत, रिसेप्शन में डांस करते हुए गई युवक की जान

बदमानी के डर से अब तक नहीं हुई रिपोर्ट

गिरफ्तार आरोपियों से पुलिस पूछताछ कर रही है और मामले से जुड़े अन्य आरोपी भी सामने आ सकते हैं. साथ कितने युवाओं को इस गिरोह ने अब तक शिकार बनाया है यह जानने की कोशिश जारी है. कहा जा रहा है कि समलैंगिकता से जुड़े इस मामले के कारण कई युवक शिकार हुए हैं लेकिन बदनामी के डर से अब तक किसी ने हिम्मत दिखाकर पुलिस तक रिपोर्ट नहीं दर्ज कराई. आखिर में दो युवकों ने हिम्मत जुटाकर पुलिस तक ब्लैकमेलिंग के इस गिरोह के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई जिससे इस गिरोह का पर्दाफाश हो पाया.

MP पुलिस की बड़ी कार्रवाई, 2.9 करोड़ का गांजा और शराब जब्त, 3 तस्कर अरेस्ट

कौन सा है ऐप

प्ले स्टोर पर 'Blued' नाम से एक ऐप है जो कि अंतराष्ट्रीय स्तर का है. यह ऐप मुख्यतौर पर GAY लोगों के लिए डेटिंग और वीडियो कॉल के लिए बनाई गई है. दुनियाभर में इस ऐप के एक करोड़ से ज्यादा सब्सक्राइबर हैं. जो लोग समलैंगिक होते हैं और उन्हें अपने आस-पास के इलाके में साथी की तलाश है तो इस ऐप के जरिए वे उस तरह के लोग इस ऐप के जरिए आपके संपर्क में आ सकते हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें