सेक्स रैकेट के चंगुल से निकली लड़कियों ने किया खुलासा नौकरी के बहाने लाए थे भारत

Smart News Team, Last updated: 13/10/2020 10:19 PM IST
  • देह व्यापार के चंगुल से निकाली गई बांग्लादेशी लड़कियों ने खुलासा किया है कि आखिर किस तरह दलाल उन्हें बहला-फुसलाकर नौकरी के बहाने भारत लाया करते थे. और यहां पर उनसे जबरदस्ती देह व्यापार करवाया जाता था.
इंदौर सेक्स रैकेट: बांग्लादेशी लड़कियों को धमकाते थे दलाल और खरीदार

इंदौर: हाल ही में बांग्लादेश से लड़कियों को नौकरी के बहाने लाकर देह व्यापार में घसीटने वाले दो आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया था. अब लड़कियों ने अपने साथ हुए सारे अपराधों का खुलासा किया है. देह व्यापार में घसीटी गई लड़कियों ने इस बात का खुलासा किया कि आखिर किस तरह उन्हें बरगलाकर और झूठे वादों में फंसाकर गलत तरीके से भारत लाया जाता था. बांग्लादेश से लाई गई लड़कियों को इंदौर व अन्य शहरों में लाकर देह व्यापार कराया जाता था. ग्राहकों को सामने पेश करने के पहले उन्हें सजाया-संवारा जाता था. लड़कियां समझती थीं कि उन्हें नौकरी पर भेजा जाएगा.

देह व्यापार के चंगुल से निकली पीड़ित लड़की ने खुलासा किया कि उन्हें सजा-सवांरकर ग्राहक के सामने पेश कर दिया जाता था. लड़कियां देह व्यापार के लिए मना करतीं तो उनसे दुष्कर्म किया जाता था. जब लड़कियां अपने घर जाने का कहती थीं तो दलाल और खरीददार कहते थे कि तुम चोरी-छिपे भारत आई हो, पुलिस को पता चलेगा तो जेल में डाल देगी. बॉर्डर पार करने की कोशिश की तो गोली मार दी जाएगी.

इंदौर: शहर में कोविड-19 के 418 नए मामले आए सामने, एक दिन में हुई इतनी मौतें

विजय नगर थाना पुलिस ने बताया कि दलाल और खरीदारों के चंगुल से मुक्त कराई गई बांग्लादेशी लड़कियों ने कुछ ऐसे ही दिल दहला देने वाले बयान दिए हैं. पुलिस ने बताया कि दलाल ऐसे व्यक्ति को ढूंढते थे जो लड़कियों को खरीदने के मोटे दाम दे सके.

वहीं, टीआई तहजीब काजी ने बताया कि अब तक जो खुलासा हुआ है उससे यह पता चला है कि महाराष्ट्र, गुजरात, आंध्रप्रदेश सहित देशभर के हर बड़े शहर में 20 से ज्यादा दलाल हैं, जो बांग्लादेशी लड़कियों से व्यापार कराते हैं. उनके चंगुल में एक हजार से ज्यादा लड़कियां फंसी हुई हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें