इंदौर में सेनेटाइजर से लगी आग में झुलसा परिवार, 3 वर्षीय बच्ची की मौत

Smart News Team, Last updated: Thu, 10th Dec 2020, 10:34 PM IST
  • हाथ में सेनिटाइजर लगाकर तवे से रोटी लेने पहुंचा पति. इसी बीच उसके हाथ में आग लग गई. हड़बड़ाहट में वहां रखी सेनिटाइजर की बड़ी बोतल गिरने से घर में फैली आग ने चार लोगों को झुलसा दिया. अस्पताल में इलाज के दौरान बच्ची ने दम तोड़ दी.
अस्पताल के बाहर खड़े मृत बच्ची के परिजन

इंदौर. इंदौर के रावजी बाजार थाना क्षेत्र के शनि मंदिर गली में पिछले दिनों एक ही परिवार के चार लोग झुलस गए थे, जिनमें एक तीन वर्षीय बच्ची भी शामिल थी. उन्हें तत्काल सरकारी अस्पताल ले जाया गया था. पूरे परिवार के सदस्यों के झुलसने का कारण सेनिटाइजर बताया गया था. उसी परिवार की 3 वर्षीय बच्ची की गुरुवार को मौत हो गई. 

मामला इंदौर के प्राचीनतम शनि मंदिर की गली में किराए से रहने वाले वर्मा परिवार का है. सोमवार दोपहर लगभग 12:00 से 1:00 के बीच सेनीटाइजर के कारण आग लगने के कारण 2 बुजुर्ग दंपत्ति और दो बच्चे जल गए थे. घटना के चश्मदीद ने बताया था कि मीना वर्मा खाना पका रही थी और उनके पति राजू वर्मा तवे पर रोटी लेने पहुंचे. तभी वहां आग लग गई. आग लगने का कारण हाथ में लगा सेनिटाइजर बताया जा रहा है. जब हाथ में आग लगी, तभी पास में रखी सेनिटाइजर की बड़ी बोतल हड़बड़ाहट में गिर गई. 

इंदौर में आईएमए की हड़ताल को समर्थन, इमरजेंसी को छोड़ अन्य सेवाएं होंगी बाधित

सेनिटाइजर गिरने से वहां आग फैल गई और वहां मौजूद दंपति सहित दो अन्य लोग आग की चपेट में आ गए. उसमें एक 3 वर्ष की बच्ची भी थी. 3 वर्षीय बच्ची लगभग पूरी जल चुकी थी, जिसका नाम रिद्धिमा बुंदेला है. वह राजू वर्मा की नातिन थी. उसने गुरुवार को अस्पताल में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया. फिलहाल रावजी बाजार पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें