एक्शन में इंदौर के आईजी, लापरवाही बरतने पर दो थाना प्रभारियों को किया अटैच

Smart News Team, Last updated: 02/12/2020 08:11 PM IST
  • इंदौर आईजी योगेश देशमुख के तीखे तेवर इन दिनों सुर्खियों में हैं. वे अचानक ही चौकियों का निरीक्षण कर रहे हैं और लापरवाही पाए जाने पर संबंधित अधिकारियों को दंड भी दे रहे हैं.
भंवरकुआं थाने का निरीक्षण करने पहुंचे आईजी योगेश देशमुख

इंदौर. इंदौर के आईजी योगेश देशमुख इन दिनों काफी सख्ती के मूड में नजर आ रहे हैं. जहां उन्होंने कल डीआरपी लाइन में अचानक निरीक्षण कर दंड स्वरूप एमटीओ को सस्पेंड कर दिया था, वहीं आज आईजी साहब ने दो थानों के निरीक्षण पर निकले, जिसमें दोनों थानों के थाना प्रभारियों को लापरवाही के लिए लाइन अटैच कर दिया. इंदौर आईजी योगेश देशमुख के तीखे तेवर इन दिनों सुर्खियों में हैं. वे अचानक ही चौकियों का निरीक्षण कर रहे हैं और लापरवाही पाए जाने पर संबंधित अधिकारियों को दंड भी दे रहे हैं. 

मंगलवार को आईजी ने डीआरपी लाइन का अचानक निरीक्षण किया और लापरवाही पाए जाने पर उन्होंने एमटीओ को तुरंत सस्पेंड कर दिया. बुधवार को आईजी औचक निरीक्षण करने दो थानों पर पहुंचे. सबसे पहले वे कनाडिया थाने पहुंचे, जहां पर उन्होंने पूरे रिकॉर्ड खंगाले. इसमें कई अनियमितताएं पाई गईं. उन्होंने थाना प्रभारी आरडी कनवा को लाइन अटैच कर दिया गया. इसके बाद योगेश देशमुख भंवरकुआं थाने पहुंचे. यहां उन्हें उचित साफ-सफाई नजर नहीं आई, जिस पर उन्होंने नाराजगी जाहिर की. वही जब थाने संबंधी रिकॉर्ड खंगाले तो कई अनियमितताएं मिलीं. उन्होंने थाना प्रभारी इंद्रेश त्रिपाठी को भी लाइन अटैच कर दिया. 

इंदौर के देवी अहिल्या विश्वविद्यालय के तक्षशिला परिसर में लगी आग, कोई हताहत नहीं

मीडिया को इस बात का आश्चर्य हुआ और उन्होंने आईजी से पूछा कि जब दोनों थाने के अधिकारियों और स्टाफ को यह अच्छी तरह पता था कि आईजी महोदय निरीक्षण पर निकले हैं तो फिर उन्होंने कोताही कैसे बरती और अपने पूरे रिकॉर्ड्स प्रॉपर तरीके से क्यों नहीं रखे. इस सवाल को आईजी टाल गए.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें