अब घर बैठे हरिद्वार या प्रयागराज में अस्थियां करवा सकेंगे विसर्जित, श्राद्ध भी लाइव

Smart News Team, Last updated: Sun, 15th Aug 2021, 4:23 PM IST
  • डाक विभाग की ओर से अब घर परिजनों की अस्थियों का विसर्जन और श्राद्ध के लाइव दर्शन कर पाएंगे. साथ ही डाक विभाग ये सुविधा लोगों को 41 से लेकर 150 रुपये में उपलब्ध करा रही है. ये कदम कोरोना के बढ़ते कहर की वजह से उठाया गया है.
डाक विभाग की तरफ से अस्थियों का स्पीड पोस्ट और श्राद्ध का घर बैठे करे लाइव दर्शन

इंदौर. डाक विभाग की ओर से एक ऐसी सुविधा की शुरुआत की गई है, जिसकी शायद ही किसी ने उम्मीद लगाई होगी. यदि आप कम समय और पैसों की वजह से अपने परिजन की अस्थियां को गया, प्रयागराज, हरिद्वार और काशी में विसर्जित नहीं कर पा रहे हैं तो ऐसे में आपकी समस्या का हाल मिल गया है. डाक विभाग की ओर से 41 से लेकर 150 रुपये तक आप इन चारों जगहों पर घर बैठे अपने परिजन की अस्थियां विसर्जित और पितरों के श्राद्ध का लाइव दर्शन कर सकते हैं. इस सुविधा को कोरोना की वजह से शुरु किया गया है.

इस सुविधा के बारे में बात करते हुए इंदौर जीपीओ के सीनियर पोस्ट मास्टर श्रीनिवास जोशी का कहना है कि गया, प्रयागराज, काशी और हरिद्वार में अस्थियों को विसर्जित करने के लिए इस सुविधा की शुरुआत की गई है. यह सुविधा देशभर के सभी पोस्ट ऑफिस पर चालू रहेगी. इस वक्त ऐसा करने का काम ओम दिव्य दर्शन सेवा संस्थान के जरिए किया जा रहा है.

सर्राफा बाजार 15 अगस्त का भाव: भोपाल, इंदौर, ग्वालियर, जबलपुर में सोना-चांदी के दामों में बढ़ोत्तरी

क्या उठाया गया ये शानदार कदम

जोशी ने बताया कि इस कदम की शुरुआत आखिर क्यों की गई? उनके मुताबिक कोरोना काल में गाड़ियां नहीं के चलने के साथ ही सार्वजनिक और धार्मिक स्थानों पर रोक लग गई है. इसके अलावा समय और रुपये की बचत करने के लिए इसकी शुरुआत की गई है. ताकि लोग अपने परिजनों की अस्थियों को यही से भेज सकें. रेट की बात करें तो 41 रुपए और आधा किलो तक 150 रुपये तक में यह सुविधा आपको उपलब्ध होगी.

पेट्रोल डीजल आज 15 अगस्त का रेट: भोपाल, इंदौर, ग्वालियर, जबलपुर में स्थिर तेल के दाम

जानिए कैसे होंगे लाइव दर्शन

- ऐसा करने के लिए सबसे पहले डाकघर में काउंटर से स्पीड पोस्ट की बुकिंग करनी होगी.

- इसके अंदर एक रजिस्टर्ड नंबर देकर ओम दिव्य दर्शन संस्थान के पोर्टल में उसे आपको रिजस्टर्ड करना होगा.

- संस्थान के लोग परिवार के नंबर पर हरिद्वार, गया, प्रयागराज और काशी अस्थियां पहुंचने के साथ संपर्क करेंगे.

- वेबकास्ट के जरिए संस्था विसर्जन और श्राद्ध कर्म होते हुए दिखाएगी.

- इसके बाद संस्थान घर के पते पर गंगा जल भी भेजी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें