युवक को थप्पड़ मारना पड़ा महंगा, बदला लेने के लिए रिक्शा चालक के ऑटो में लगा दी आग

Somya Sri, Last updated: Sun, 7th Nov 2021, 2:21 PM IST
  • इंदौर में एक मामूली सी कहासुनी में रिक्शा चालक ने एक युवक को थप्पड़ जड़ दिया. जिसके बाद उस युवक के छोटे भाई ने अपने कुछ दोस्तों के साथ मिलकर रिक्शा चालक के दो ऑटो में आग लगा दी. पुलिस ने मामले में केस दर्ज कर लिया है. अभी तक किसी की भी गिरफ्तारी नहीं हुई है. पुलिस जांच में जुट गई है.
युवक को थप्पड़ मारना पड़ा महंगा, बदला लेने के लिए रिक्शा चालक के ऑटो में लगा दी आग (प्रतिकात्मक फोटो)

इंदौर: इंदौर के द्वारकापुरी थाने के बुद्धनगर में एक मामूली सी विवाद में कुछ लोगों ने मिलकर एक रिक्शा चालक की पूरी पूंजी और पैसे कमाने का जरिया ही समाप्त कर दिया. गुस्से में आकर कुछ लोगों ने रिक्शा चालक की दोनों ऑटो में आग लगा दी. यह घटना शुक्रवार रात की बताई जा रही है. जानकारी के मुताबिक इंदौर के द्वारकापुरी थाने के बुद्ध नगर में एक रिक्शा चालक की एक युवक से कहासुनी हो जाती है. इस दौरान विवाद इतना बढ़ जाता है कि रिक्शा चालक उस युवक को थप्पड़ जड़ देता है. हालांकि बाद में वह माफी भी मांग लेता है. लेकिन इस थप्पड़ का बदला लेने के लिए उस युवक के छोटे भाई ने अपने दोस्तों के साथ मिलकर रात के अंधेरे में रिक्शा चालक के दोनों ऑटो में आग लगा दिया.

मिली जानकारी के मुताबिक द्वारकापुरी के बुद्ध नगर में रिक्शा चालक दिलीप की करीब 15 दिन पहले उसी इलाके में रहने वाले सोनू के भाई प्रमोद से कहासुनी हो गई थी इस दौरान उसने प्रमोद को थप्पड़ जड़ दिया था हालांकि बाद में उससे माफी भी मांग ली थी लेकिन घटना के बाद भी प्रमोद का भाई सोनू लगातार दिलीप को धमकियां देता रहा एक दिन उसने शराब के नशे में दिलीप से लड़ाई की और रात में अपने दोस्तों के साथ मिलकर उसके दो और दो में आग लगा दी और मौके से फरार हो गया.

इंदौर में 106 पुलिसकर्मियों के तबादले, DIG ने एक TI, 92 इंस्पेक्टर और 13 सूबेदार को बदला

इस घटना के बाद रिक्शा चालक ने थाने में मामला दर्ज कराया है टीआई सतीश त्रिवेदी के मुताबिक मामले में केस दर्ज कर लिया गया है. फिलहाल अभी आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है. पुलिस जांच में जुटी है. इधर रिक्शा चालक की आर्थिक हालत खराब है क्योंकि उसके आय का जरिया ही आरोपियों ने समाप्त कर दिया है. साथ ही रिक्शा चालक ने जो ऑटो में अपनी पूंजी लगाई थी वह भी अब आग में खाक हो चुकी है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें