इंदौर प्रशासन ने भू-माफियाओं से मुक्त कराई 6 हजार 890 करोड़ की जमीन

Smart News Team, Last updated: Wed, 17th Mar 2021, 4:58 PM IST
  • इंदौर प्रशासन द्वारा भू-माफियाओं के खिलाफ अभियान छेड़कर करीब 6 हजार 890 करोड़ रुपए से ज्यादा की जमीन को मुक्त करा लिया है. प्रशासन के इस कदम को लेकर पूरे शहर में वाहवाही हो रही है.
इंदौर प्रशासन ने भू-माफियाओं से मुक्त कराई 6 हजार 890 करोड़ की जमीन (प्रतीकात्मक तस्वीर)

इंदौर प्रशासन द्वारा भू-माफियाओं के खिलाफ छेड़ा गया अभियान जारी है. प्रशासन लगातार भू-माफियाओं को गिरफ्तार करने में उनके कब्जे से जमीन को छुड़वाने में लगा हुआ है. बताया जा रहा है कि इंदौर शहर के 17 भू-माफियाओं के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज की गई है. वहीं, खास बात तो यह है कि प्रशासन द्वारा अब तक उनके कब्जे से 6 हजार 890 करोड़ रुपए से ज्यादा की जमीन मुक्त करवा ली गई है.

प्रशासन के इस कदम से 3 हजार से ज्यादा पीड़ित लोगों को फायदा मिल सकता है. बताया जा रहा है कि यूं तो इंदौर में भू-माफियाओं के खिलाफ पहले भी अभियान चलाया गया था. लेकिन संस्थाओं की जमीनों पर से उनके कब्जे को हटाने और उनपर नकेल कसने का कदम पहली बार उठाया गया है. ऐसे में जिन्होंने भू-माफियाओं से जमीनें ली थीं, उन्होंने जमीनों को सरेंडर करने कै फैसला किया है. भू-माफियाओं पर केस दर्ज होने के बाद एक दर्जन से ज्यादा लोग जमीन छोड़ने का कदम उठा चुके हैं.

बेटे के जन्मदिन पर पति-पत्नी में हुआ झगड़ा, गुस्से में दोनों ने पिया जहर

बताया जा रहा है कि भू-माफियाओं के खिलाफ छेड़े गए अभियान के कारण लोगों ने देवी अहिल्या संस्था, श्रीराम गृह निर्माण और जाग्रति गृह निर्माण संस्था की 44 एकड़ से ज्यादा जमीनें छोड़ने की पेशकश की है. माना जा रहा है कि इन जमीनों का बाजार भाव करीब 1700 करोड़ के आसपास है. इसमें देवी अहिल्या संस्था की 9, श्रीराम संस्था की 3 और जाग्रति गृह निर्माण की 2 रजिस्ट्रियां शामिल हैं.

इंदौर में लगेगा नाइट कर्फ्यू, बारात में भी होंगे केवल 50 लोग शामिल

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें