इंदौर: पॉलीथिन में लपेटकर नौ दिन तक रखा रहा कोराना संक्रमित का शव, बड़ी लापरवाही

Smart News Team, Last updated: Sat, 19th Sep 2020, 2:15 PM IST
  • इंदौर. आपको बतादे के 6 सितंबर को 54 वर्षीय तानाजी को एमटीएच अस्पताल में भर्ती कराया गया था. इलाज के दौरान 9 सितंबर की शाम उनकी मौत हो गई. इसके बाद शव को पॉलीथिन में लपेटकर एमवाय अस्पताल की मर्च्युरी भेज दिया गया. वहां इंट्री के बाद शव रख दिया गया लेकिन जवाबदारों ने स्वजन को जानकारी ही नहीं दी.
प्रतीकात्मक तस्वीर 

इंदौर। इंदौर में अस्पताल लगातार लापरवाही का केंद्र बनता जा रहा है. नौ दिन से पॉलीथिन में लपेटकर रखे गए कोरोना संक्रमित के शव का मामला सामने आया है. 6 सितंबर को 54 वर्षीय तानाजी को एमटीएच अस्पताल में भर्ती कराया गया था. इलाज के दौरान 9 सितंबर की शाम उनकी मौत हो गई. इसके बाद शव को पॉलीथिन में लपेटकर एमवाय अस्पताल की मर्च्युरी भेज दिया गया. वहां इंट्री के बाद शव रख दिया गया, लेकिन जवाबदारों ने स्वजन को जानकारी ही नहीं दी.

स्वजन समझते रहे कि अस्पताल में इलाज चल रहा है. इधर, पहले से हो रही दो मामलों की जांच के दौरान जब रजिस्टर जांचा गया तो उसमें 9 सितंबर को एक शव रखे जाने की इंट्री तो मिली, लेकिन शव सौंपे जाने की जानकारी दर्ज नहीं थी. पड़ताल हुई तो शव वहीं रखा मिल गया. इसके बाद तुरंत शव की जानकारी जुटाई गई और पीथमपुर से स्वजन को बुलाकर शव उनके सुपुर्द किया गया.

इंदौर: 8 नए क्षेत्रों में कोरोना के मरीज मिलने से मचा हड़कंप, बढ़ रहा है आंकड़ा

परिवार के लोगों ने इस लापरवाही पर नाराजगी जताई, लेकिन अस्पताल की ओर से समझा बुझाकर रवाना कर दिया गया. पिछले दोनों मामलों की तरह ही इस मामले में भी अस्पताल प्रशासन का रवैया गोलमोल ही रहा. वही नौ दिन पुराने शव मिलने के मामले में एमटीएच अस्पताल प्रबंधन से जानकारी मांगी गई थी. अस्पताल प्रबंधन ने बताया कि 9 सितंबर को ही मृतक के स्वजन को जानकारी दे दी गई थी, लेकिन वे कहीं बाहर होने की वजह से नहीं आए इसलिए शव को वहां रखा गया था.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें