इंदौर: एक सप्ताह में सभी रूटों पर होगा बसों का संचालन, अभी चल रहीं सिर्फ 20 बस

Smart News Team, Last updated: Sun, 6th Sep 2020, 10:01 AM IST
  • इंदौर. पहले दिन शुरू हुए बसों के संचालन में 850 बसों में से सिर्फ 20 बसें ही चल सकी. सवारियों की संख्या न के बराबर थी और किसी बस में 5 किसी बस में 10 सवारियां देखने को मिली. वर्तमान समय में संक्रमण काल चल रहा है इसलिए काफी कम लोग ही घरों से बाहर निकलकर यात्रा करना पसंद कर रहे हैं.
प्रतीकात्मक तस्वीर 

इंदौर| लॉकडाउन शुरू होते ही इंदौर में बसों के पहिए थम गए थे. जिस कारण अब तक बसों का संचालन बंद था. बीते शनिवार से बसों का संचालन शुरू कराए जाने के लिए सरकार ने इंदौर प्रशासन को हरी झंडी दे दी है. पहले दिन शुरू हुए बसों के संचालन में 850 बसों में से सिर्फ 20 बसें ही चल सकी. बसों के कम चलने के पीछे एसोसिएशन का कहना है कि शार्ट नोटिस पर सारी बसों को चलाया जाना संभव नहीं था. प्रमुख कारण यह रहा कि इन बसों के मेंटेनेंस और स्टाफ को बुलाने में समय लगेगा.

मध्य प्रदेश बस ऑनर्स एसोसिएशन के संभागीय प्रभारी शिव सिंह गौड़ ने बताया कि सोमवार से बसों की संख्या में और इजाफा हो जाएगा. एक सप्ताह के अंदर सभी रूटों पर बसों की आवाजाही सामान्य रूप से शुरू हो जाएगी. उन्होंने बताया कि उज्जैन रूट की 75 वर्षों में से 10 बसों का संचालन शुरू कराया गया है. जिसमें सवारियों की संख्या न के बराबर थी और किसी बस में 5 किसी बस में 10 सवारियां देखने को मिली.

उन्होंने बताया कि वर्तमान समय में संक्रमण काल चल रहा है. इसलिए काफी कम लोग ही घरों से बाहर निकलकर यात्रा करना पसंद कर रहे हैं. जिससे कि बसों में यात्रा करने वाले लोगों की संख्या काफी कम है.

संभागीय प्रभारी शिव सिंह गौड़ ने बताया कि फिलहाल बसों का मेंटेनेंस कराया जा रहा है और स्टाफ को भी जानकारी उपलब्ध करा दी गई है कि वह डिपो में आकर बसों की टेस्टिंग करें तथा सुचारू रूप से बसों का संचालन शुरू करें. इसके अलावा आई बसों का संचालन भी शुरू कर दिया गया है. जिसमें पहले दिन 75 में से सिर्फ 20 बसें ही संचालित की जा सकी. आई बसों में यात्रा करने वालों में 60 फ़ीसदी छात्र शामिल थे. बताया कि रूट से लौट कर आई बसों को सैनिटाइजर भी कराया गया. इसके अलावा हर बस स्टॉप के बाहर सोशल डिस्टेंस के तहत मार्किंग कराई गई है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें