इंदौर के कान्वेंट स्कूल में नियमों की अनदेखी, 55 छात्रों को बुलाकर लगाई क्लास

Smart News Team, Last updated: 22/09/2020 06:12 PM IST
  • इंदौर. स्कूल प्रबंधन ने 9 से कक्षा 12 तक के 55 छात्रों को बुलाकर 3:30 घंटे की क्लास लगाई. स्कूल में कम संख्या में छात्रों को बुलाया जाए. जिनकी संख्या 5 से अधिक नहीं होगी. अगर कोई स्कूल निर्देशों का पालन नहीं करेगा तो उनके खिलाफ कार्रवाई अमल में लाई जाएगी.
प्रतीकात्मक तस्वीर 

इंदौर. कोरोना संक्रमण काल के बाद खुले स्कूलों को गाइडलाइन जारी करते हुए निर्देश दिए गए थे कि विद्यालय में 5 से अधिक छात्रों को नहीं बुलाया जाएगा. मगर कुशवाहा नगर स्थित इंदौर कान्वेंट स्कूल में कोविड-19 के नियमों की अनदेखी की गई है. यहां पर स्कूल प्रबंधन ने 9 से कक्षा 12 तक के 55 छात्रों को बुलाकर 3:30 घंटे की क्लास लगाई.

स्कूल डायरेक्टर अरुण कुमार खरात का कहना है कि उन्होंने सभी बच्चों को सोशल डिस्टेंसिंग के साथ बैठाया था. जब उनसे जानकारी चाही गई थी कि केवल डाउट क्लीयरिंग के लिए क्लासेस लगानी थी तो इतनी बड़ी संख्या में छात्रों को क्यों बुलाया गया. इस पर वह कोई भी जवाब नहीं दे पाई.

इस संबंध में जिला शिक्षा अधिकारी संजय गोयल का कहना था कि उन्हें इस मामले की जानकारी मिली है. बताया कि वह संबंधित अधिकारी से जांच करा रहे हैं. यह जानकारी दी कि सभी स्कूलों को निर्देश जारी दिए गए हैं जिसमें यह निर्धारित किया जा रहा है कि स्कूल में कम संख्या में छात्रों को बुलाया जाए. जिनकी संख्या 5 से अधिक नहीं होगी. अगर कोई स्कूल निर्देशों का पालन नहीं करेगा तो उनके खिलाफ कार्रवाई अमल में लाई जाएगी. वर्तमान में स्कूलों को केवल डाउट क्लीयरिंग के लिए क्लासेस लगानी है.

इंदौर: अमीर बनने के चक्कर में चुना एटीएम से चोरी करने का रास्ता

वहीं विभिन्न समाजसेवी संगठनों का कहना है कि विद्यालय प्रशासन द्वारा इस प्रकार की चूक नहीं की जानी चाहिए थी. बताया कि वर्तमान समय कोरोना संक्रमण का चल रहा है जिसमें छात्रों के अच्छे भविष्य बनने की वजह उनमें संक्रमण का खतरा बढ़ने की ज्यादा उम्मीद है. उन्होंने कहा कि विद्यालय प्रशासन को यह निर्धारित करना चाहिए कि किस दिन के छात्रों को बुलाना है. भीड़ को विद्यालय के अंदर प्रवेश नहीं कराना चाहिए.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें