इंदौर: नीट परीक्षा में भीड़ से बचने को अलग-अलग समय पर बुलाए गए परीक्षार्थी

Smart News Team, Last updated: 13/09/2020 03:39 PM IST
  • इंदौर. विद्यालयों में प्रवेश से लेकर बाहर निकलने तक के लिए एनडीए ने सख्त निर्देश जारी किए हैं. परीक्षा के लिए छात्र को 12 बजे केंद्र पर रिपोर्टिंग करनी होगी. एक कमरे में मात्र 12 से 15 छात्र परीक्षा देगें. परीक्षार्थियों को विद्यालय में चप्पल पहन कर आने की सलाह दी गई है.
प्रतीकात्मक तस्वीर

इंदौर| इंदौर में हो रही मेडिकल कॉलेजों में प्रवेश के लिए राष्ट्रीय पात्रता एवं प्रवेश परीक्षा के लिए 63 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं. जिसमें करीब 20 हजार छात्र हिस्सा लेंगे. प्रवेश से लेकर बाहर निकलने तक के लिए एनडीए ने सख्त निर्देश जारी किए हैं. इसमें भीड़ से बचने के लिए अलग-अलग समय पर परीक्षार्थियों को विद्यालय के अंदर प्रवेश दिए जाने के लिए बुलाया गया है.

एनटीए ने बताया कि छात्रों को विद्यालयों में रिपोर्टिंग के लिए अलग-अलग टाइम स्लॉट दिए गए हैं. 40-40 मिनट के टाइम स्लॉट में 80 से 100 छात्रों को केंद्र में प्रवेश दिया जाएगा. दोपहर दो बजे शुरू होने वाली परीक्षा के लिए छात्र को 12 बजे केंद्र पर रिपोर्टिंग करनी होगी. बताया कि 1.30 बजे के बाद किसी भी छात्र को विद्यालय परिसर के अंदर प्रवेश नहीं दिया जाएगा. उन्होंने कहा इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पूरी तरह कराने के लिए पुख्ता इंतजाम कर लिए गए हैं.

एनडीए ने इसीलिए परीक्षा केंद्रों की संख्या भी बढ़ाई है. एक कमरे में मात्र 12 से 15 छात्र परीक्षा देगें. बताया कि परीक्षार्थियों की जांच मेटल डिटेक्टर से होगी. केंद्रों पर ब्लूटूथ और सेंसर की भी जांच की जाएगी. इसके अलावा यहां जैमर भी लगाए गए हैं. सीसीटीवी कैमरा की लाइव स्ट्रीमिंग भी की जाएगी. कोई भी कर्मचारी किसी भी प्रतिभागी के डाक्यूमेंट्स को टच नहीं करेगा.

इंदौर में कर्जदारों से परेशान व प्रताड़ित युवती ने खाया जहर हुई मौत

बताया कि परीक्षा केंद्र पर मास्क, हैंड ग्लव्ज, सैनिटाइजर, पानी की पारदर्शी बोतल के साथ प्रवेश पत्र व परिचय पत्र लाए जाने की अनुमति होगी. आभूषण, मोबाइल सहित अन्य उपकरण घड़ी, फुल स्लीव के कपड़े प्रतिबंधित होंगे. परीक्षार्थियों को विद्यालय में चप्पल पहन कर आने की सलाह दी गई है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें