इंदौर: शिवसेना नेता की हत्या का आरोपी, गैंगस्टर मांगीलाल का भांजा गिरफ्तार

Smart News Team, Last updated: 05/09/2020 04:47 PM IST
  • प्रॉपर्टी के विवाद को लेकर सुपारी देकर हत्या कराए जाने की आशंका जिस जमीन पर ढाबा व फॉर्म हाउस बना था उसका असली मालिक निकला मेहरबान सिंह किसान रमेश साहू व श्रवण के बीच जमीन को लेकर 12 से ज्यादा हुई थी बैठके
प्रतीकात्मक तस्वीर

इंदौर। शिवसेना नेता की हत्या में शामिल होने के आरोप में शुक्रवार को पुलिस ने गैंगस्टर मांगीलाल के भांजे को गिरफ्तार कर लिया. आरोप है कि प्रॉपर्टी के विवाद को लेकर दोनों के बीच अनबन थी जिसके चलते सुपारी देकर शिवसेना नेता की हत्या कराई गई है.पुलिस गैंगस्टर मांगीलाल के भांजे गिरफ्तार कर पूछताछ कर रही है.

हाल ही में हुए शिवसेना नेता रमेश साहू की प्रॉपर्टी विवाद में सुपारी देकर हत्या कराये जाने की बात सामने आ रही है.

मामले की छानबीन कर रही क्राइम ब्रांच के हाथ कई अहम सुराग लगे हैं.

शुक्रवार को क्राइम ब्रांच की टीम के जेल में बंद चल रहे गैंगस्टर मांगीलाल ठाकुर के भांजे श्रवण ठाकुर को गिरफ्तार कर लिया है. इसके अलावा राहुल परमार और मेहरबान सिंह किसान से भी पूछताछ की जा रही है.

बता दें कि गैंगस्टर मांगीलाल ठाकुर जेल में बंद रहते हुए भी अपने अवैध धंधे संचालित कर रहा है. इसकी देखरेख उसका भांजा श्रवण ठाकुर कर रहा था.

शनिवार को मामले का खुलासा अधिकारियों द्वारा किया जाएगा. सूत्रों के अनुसार रमेश साहू जिस जमीन पर अपना ढाबा व फार्म हाउस बना रखा था. उस जमीन का असली मालिक मेहरबान सिंह किसान को बताया जा रहा है.

मेहरबान सिंह ने ढाबे की जमीन राहुल परमार को बेंची थी और राहुल परमार से रमेश साहू ने जमीन ले रखी थी. लेकिन अभी तक उसने पूरे पैसे नहीं दिए थे जिसके चलते बार-बार पैसे दिए जाने का दबाव बनाया जा रहा था.

राहुल ने रमेश साहू का चेक बाउंस करा दिया और रजिस्ट्री नहीं होने दी. इसी को लेकर विवाद बढ़ता गया. साहू ने करोड़ों की जमीन पर अपना कब्जा बना लिया था.

इस बात को लेकर साहू और ठाकुर के बीच जमीन को लेकर लेकर अनबन बनी हुई थी. इस जमीन को लेकर दोनों के बीच 12 से अधिक बैठकें हुई. इस दौरान कई बार विवाद भी हुआ लेकिन मामला दोनों के बीच अटका ही रहा.

अधिकारियों को आशंका है कि मांगीलाल के इशारे पर ही साहू की सुपारी देकर ठाकुर या उसकी गैंग के किसी बदमाश द्वारा हत्या करा दी गई है.

श्रवण ठाकुर मामा मांगीलाल ठाकुर के साथ कई मामलों में पाया गया संलिप्त

श्रवण ठाकुर अपने मामा मांगीलाल के साथ वर्ष 1994 के बांदा गांव में धर्मेंद्र ठाकुर और ओम प्रकाश ठाकुर हत्याकांड में भी आरोपी था. इसके अलावा और कई अन्य मामलों में वह मामा के साथ आरोपी था.

जेल में मामा के बंद होने के बाद उसके सभी अवैध धंधों को श्रवण ही संचालित करने लगा.

शनिवार को पुलिस कर सकती है खुलासा

इससे पहले उज्जैन के गैंगस्टर रंजीत खटीक से भी घटना को लेकर पूछताछ की गई थी. रंजीत ने कई बार साहू को ढाबे पर जा कर धमकाया भी था.

वहीं क्राइम ब्रांच खंडवा से सोनू नाम के नौकर से भी पूछताछ की है. नौकर को हिरासत में लेकर क्राइम ब्रांच द्वारा की गई पूछताछ में कई खुलासे हुए है.

क्राइम ब्रांच पुलिस ने घटना के तार को जोड़ते हुए गुत्थी सुलझा ली है. शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस द्वारा घटना का खुलासा किया जाएगा.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें