इंदौर: 37 कॉलेजों पर फर्जी तरीके से 50 करोड़ की स्कॉलरशिप वसूलने पर जाँच शुरू

Smart News Team, Last updated: 27/08/2020 03:31 PM IST
  • इंदौर के 21 सहित संभाग के 37 कॉलेजों में पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन मैनेजमेंट कोर्स की स्कॉलरशिप में मिली गड़बड़ी. जांच हेतु प्रदेश सरकार ने तीन सदस्यीय टीम का किया गठन. छात्रवृत्ति मामले को देख रहे आदिम जाति कल्याण विभाग के अफसर भी हटाए गए.
इंदौर

इंदौर के 21 सहित डिवीजन के 37 कॉलेजों में पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन मैनेजमेंट कोर्स की स्कॉलरशिप में गड़बड़ी की शिकायत मिली है. इस पर कार्यवाही करते हुए प्रदेश सरकार ने तीन सदस्यीय जांच कमेटी गठन कर दिया है. वहीं स्कॉलरशिप मामला देख रहे आदिम जाति कल्याण विभाग के अफसर बीके श्रीमाली को भी हटा दिया गया है.

स्कॉलरशिप में हुई गड़बड़ी के बाद गठित जांच कमेटी में सीईओ स्मार्ट सिटी अदिति गर्ग, ओल्ड जीडीसी के प्रोफेसर एमडी सोमानी तथा स्मार्ट सिटी के संयुक्त संचालक तेरसिंह बघेल शामिल हैं. बताया जा रहा है कि इंदौर सहित डिवीजन के 37 कॉलेजों पर लगभग 50 करोड़ की स्कॉलरशिप फर्जी तरीके से वसूलने का आरोप लगा है.

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक लगभग दस कॉलेजों ने छात्रों को एडमिशन दिए बिना ही फर्जी तरीके से स्कॉलरशिप के लाखों रुपए हासिल कर लिए. चूंकि राशि छात्रों के अकाउंट में आती है, इसलिए कुछ लोगों को छात्र बनाकर उनके दस्तावेज पेश किए गए. वहीं कुछ कॉलेजों में हल्की-फुल्की गड़बड़ की बात सामने आ रही है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें