इंदौर: जबलपुर एक्सप्रेस रविवार को 240 यात्रियों के साथ हुई रवाना

Smart News Team, Last updated: 06/09/2020 09:01 PM IST
  • इंदौर रेलवे स्टेशन से शाम 7:30 बजे यात्रियों को लेकर रवाना हुई इंदौर जबलपुर एक्सप्रेस जबलपुर से रात 11: 50 मिनट में रवाना हुई ट्रेन रविवार को सुबह 9:55 पर इंदौर पहुंची
जबलपुर एक्सप्रेस

इंदौर। इंदौर रेलवे स्टेशन से चलने वाली इंदौर-जबलपुर स्पेशल ट्रेन रविवार को यात्रियों को लेकर रवाना हुई. लॉकडाउन के बाद चलने वाली इंदौर रेलवे स्टेशन से यह पहली ट्रेन है. इंदौर जबलपुर स्पेशल ट्रेन में पहले दिन 240 यात्रियों ने यात्रा की. इस दौरान रेलवे स्टेशन पर यात्रियों के बैठने को लेकर पूरी व्यवस्था दिखी. रेलवे भी कामकाज को ट्रैक पर लाने के लिए अलग-अलग ट्रेनें संचालित कर रहा है. इसी क्रम में रविवार को इंदौर से पहली ट्रेन रवाना हुई. सब कुछ सही रहा तो जल्द ही 1 दर्जन से अधिक ट्रेनें इंदौर से चलाई जाएंगी.

बता दें कि इंदौर-जबलपुर एक्सप्रेस ट्रेन रविवार को इंदौर रेलवे स्टेशन से रवाना हुई जिसमें कुल 240 यात्रियों ने सफर किया जबकि इस ट्रेन में यात्रियों के बैठने की क्षमता 2000 की थी. 2000 सीट वाले ट्रेन में मात्र 240 लोगों ने ही सफर किया. लंबे समय बाद रेलवे स्टेशन पर लोगों की चहल-पहल दिखी. मात्र 240 यात्रियों के चलते रेलवे स्टेशन पर सन्नाटा जैसा दिख रहा था. रेलवे स्टेशन पर इक्का-दुक्का लोग ही नजर आ रहे थे. वहीं प्लेटफार्म नंबर चार पर सबसे ज्यादा भीड़ दिखी. इसी प्लेटफार्म से होकर ट्रेन को रवाना होना था.ट्रेन द्वारा यात्रा किए जाने की सुविधा मिलने पर लोगों ने परिवार के साथ सफर किया.

शाम 7:30 बजे इंदौर रेलवे स्टेशन से इंदौर-जबलपुर स्पेशल ट्रेन रवाना हुई. इस ट्रेन को प्लेटफार्म नंबर 4 से रवाना किया गया. यह ट्रेन रविवार कि सुबह यात्रियों को लेकर 9:40 पर इंदौर रेलवे स्टेशन पहुंची थी. यही ट्रेन जबलपुर से शनिवार की रात 11:50 पर चली थी. इस ट्रेन में कुल 128 यात्रियों ने सफर किया. 128 यात्रियों को लेकर जबलपुर से चली ट्रेन सुबह इंदौर पहुंची.

इंदौर से रविवार को ट्रेनों की आवाजाही शुरू हो गई है. करीब 6 माह बाद ट्रेन से यात्रा की सुविधा शुरू होने पर लोग अपना बैग उठाकर स्टेशन की ओर निकल पड़े.इस दौरान यात्रियों को भी कई जांच से गुजरना पड़ा. थर्मल स्क्रीनिंग किए जाने के बाद ही यात्रियों को ट्रेन में बैठने की सुविधा दी गई. इस दौरान सभी यात्रियों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना पड़ा. अनिवार्य रूप से सभी यात्री मास्क लगाए हुए नजर आए.2000 की क्षमता वाले ट्रेन में मात्र 240 यात्रियों ने सफर किया. इस दौरान यात्रा में सभी लोग एक दूसरे से 2 गज की दूरी पर ट्रेन में बैठे हुए नजर आए. पूरी ट्रेन खाली नजर आ रही थी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें