इंदौर: ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस की पूर्व सरकार पर साधा निशाना

Smart News Team, Last updated: 17/08/2020 04:22 PM IST
  • 15 महीनों में कांग्रेस की सरकार ने सिर्फ भ्रष्टाचार और वादाखिलाफी किया अत्याचारी और दोगली सरकार के खिलाफ साथियों ने इस्तीफा देकर बीजेपी की सदस्यता ली नरेंद्र मोदी, अमित शाह और जेपी नड्डा त्रिमूर्ति के नेतृत्व में भारत का विकास सुनिश्चित
ज्योतिरादित्य सिंधिया

इंदौर। इंदौर में ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस की पूर्व सरकार पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कांग्रेस को भ्रष्टाचार और वादाखिलाफी की सरकार घोषित किया.

इंदौर में पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि साथियों ने ऐतिहासिक निर्णय लेते हुए अत्याचारी और दोगली सरकार के खिलाफ एकजुट होकर इस्तीफा दिया है. साथ ही नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली भाजपा की सदस्यता ली.

उन्होंने भाजपा का गुणगान करते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी, अमित शाह और जेपी नड्डा त्रिमूर्ति के नेतृत्व में भारत का विकास सुनिश्चित है. सही मायने में देश की अखंडता और एकता अब असली हाथों में पहुंची है. इससे देश की अखंडता व एकता सुरक्षित हैं.

उन्होंने आगे कहा कि आने वाले उपचुनाव में जनता सबक सिखाएगी. कुर्सी चले जाने की वजह से कांग्रेस छटपटा रही है. सिंधिया ने कहा कि सत्य परेशान हो सकता है किंतु पराजित नहीं. हमें जनता के विश्वास पर खरा उतरना चाहिए.

सिंधिया ने कहा कि मैं जनसेवक था और हमेशा जनसेवक ही रहूंगा. कांग्रेस पार्टी द्वारा किए जा रहे निजी हमलों पर उन्होंने कहा कि मेरी दादी ने सत्य का रास्ता अपनाया था. पिता ने सत्य का झंडा उठाया . उसी के अनुरूप मैंने भी आज सत्य का झंडा उठाया है. मैं कांग्रेस के नेताओं का नहीं बल्कि जनता के प्रश्नों का जवाब दूंगा.

वहीं उन्होंने सचिन पायलट के मुद्दे पर कहा कि सचिन मेरे मित्र हैं, जो पीड़ा उन्होंने उठाई है. उससे सब वाकिफ हैं. कांग्रेस पार्टी में काबिलियत पर प्रश्न उठाया जाता है. यही प्रश्न सचिन पायलट पर उठाया गया. यह बहुत ही दुख की बात है.

कांग्रेस पार्टी पूरी तरह विफलता की ओर है. कांग्रेस अपने आप में ही उलझी हुई है. पार्टी और उसके नेताओं को नहीं पता कि उन्हें करना क्या है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें