लव जिहादः अहमद ने अमन बनकर छात्रा से की दोस्ती, फिर VIDEO वायरल करने की दी धमकी

Sumit Rajak, Last updated: Sun, 23rd Jan 2022, 8:31 AM IST
  • इंदौर में लव जिहाद का सनसनीखेज मामला सामने आया है. युवती की शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है.सीएस की पढ़ाई कर रही छात्रा ने शिकायत करते हुए आरोप लगाया कि अहमद ने अमन बनकर पहले दोस्ती की, फिर प्यार का ढोंग रचाकर उसका शारीरिक शोषण किया. आरोपी ने युवती के अश्लील विडिओ बनाकर ब्लैकमेल करने लगा.
फाइल फोटो

इंदौर. मध्य प्रदेश में इंदौर के एमजी रोड थाना पुलिस ने एक युवती की शिकायत पर लव जिहाद का केस दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. इस मामले में विस्तृत जांच की जा रही है. युवती बुराहनपुर की रहने वाली है. दरअसल, सीएस की पढ़ाई कर रही छात्रा ने शिकायत करते हुए सनसनीखेज मामले का खुलासा किया. युवती एमजी रोड इलाके में स्थित नामी कोचिंग में कम्पनी सेक्रेटरी (सीएस) की पढाई कर रही थी. जहां अहमद नाम का शख्स अमन बनकर युवती से पहले दोस्ती की, फिर प्यार का ढोंग रचाकर उसका शारीरिक शोषण करना शुरू कर दिया. साथ ही आरोपी ने युवती के संग बिताए निजी पल कैमरे में कैद कर लिए और फिर अश्लील दिखाकर ब्लैकमेल करने लगा. 

इसके बाद युवती के मना करने पर आरोपी फोटो वायरल करने की धमकी दी और उसका शारीरिक शोषण करने लगा. आरोपी की हकीकत युवती को जब  पता चली तो उसने संबंध खत्म कर दिए.लेकिन इसके बाद भी आरोपी अहमद ब्लैकमेल करने लगा और युवती को आये दिन परेशान करने लगा. इसी दौरान परिवार वालों ने युवती का रिस्ता एक जगह तय कर दिया. लेकिन आरोपी अहमद ने यहां युवती के निजी फ़ोटो परिवार को भेज दिए जिसकी वजह से उसका रिश्ता टूट गया. बताया जा रहा कि आरोपी अहमद युवती को धर्म बदलकर अपने साथ रखना चाहता था. साथ ही उस पर धर्म बदलने को लेकर दबाब डाल रहा था. पुलिस की  शुरुआती पूछताछ में पीड़िता ने कहा कि कोचिंग ने अहमद ने अमन बनकर दोस्ती की थी. फिर नशीला पदार्थ पिलाया और शारीरिक संबंध और उसका अश्लील वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करने लगा.

Video: नशे की हालत में ऊंचे मोबाइल टावर पर चढ़ा युवक, 2 घंटे तक चला खूब ड्रामा

युवती की शिकायत के बाद एमजी रोड थाना पुलिस ने एफआईआर दर्जकर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया. साथ ही पुलिस मामले की जांच शुरू कर दी है. थाना प्रभारी एमजी रोड डीवीएस नागर के अनुसार युवती की शिकायत पर बुराहनपुर की शिकारपुर पुलिस ने केस दर्ज किया था. लेकिन प्रकरण शून्य पर दर्ज होकर यहां ट्रांसफर किया गया है. आरोपी को गिरफ्तार कर पुरे जांच की जा रही है. मोबाइल की तकनीकी जांच भी की जाएगी. इस मामले में आईटी एक्ट समेत अन्य धाराओं का भी लग सकता है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें