इंदौर में यात्रियों के दबाव के चलते बढ़ाई जाएंगी यात्रा के लिए बसें

Smart News Team, Last updated: 10/09/2020 07:30 AM IST
  • अभी 100 बसों का हो रहा इंदौर शहर से संचालन. पहले 800 बसों का होता था इंदौर से अन्य शहरों के लिए संचालन
इंदौर में चलाई जाएँगी और बसें (फ़ाइल फ़ोटो)

इंदौर। इंदौर शहर से जल्द ही बसों के संचालन की संख्या बढ़ाई जाएगी. जैसे-जैसे अनलॉक की प्रक्रिया में ढील दी जाएगी. इस हिसाब से बसों की संख्या भी बढ़ाई जाएगी. फिलहाल अभी इंदौर शहर से 100 बसों का संचालन किया जा रहा है, जिनमें भरपूर यात्री यात्रा कर रहे हैं.

यात्रियों की बढ़ती संख्या के दबाव के चलते बसों की संख्या में इजाफा किया जाएगा. नॉर्मल दिनों में इंदौर शहर से लगभग 800 बसों का संचालन किया जाता था.

यह बसें प्रदेश के अंदर के अलग-अलग शहरों में संचालित की जाती थी. इसके अलावा कुछ बसें अन्य प्रदेशों के लिए भी संचालित की जाती थी.

ऐसे में यात्रियों के बढ़ते दबाव को देखते हुए परिवहन निगम ने भी बसों की संख्या बढ़ाए जाने का निर्णय लिया है.

एसोसिएशन ने बस का किराया बढ़ाए जाने की मांग की

बस ओनर एसोसिएशन द्वारा बस का किराया बढ़ाए जाने की मांग की गई है.

एसोसिएशन का कहना है कि 2 साल में डीजल का मूल्य लगभग 25 रुपये तक बढ़ गया है. लेकिन किराया जस का तस बना हुआ है. डीजल का मूल्य बढ़ाए जाने के चलते बस के मालिकों पर इसकी मार पड़ रही है.

एसोसिएशन ने लगभग 50 फीसदी किराया बढ़ाए जाने की मांग की है. एसोसिएशन का कहना है कि 50 सीटर बस का प्रति किलोमीटर खर्च 7 रुपये से अधिक बढ़ गया है.

ऑटो का भी किराया डीजल के बढ़ने के चलते बढ़ा दिया गया है. बस का किराया भी बढ़ाया जाना चाहिए.

एसोसिएशन के अध्यक्ष बृजमोहन राठी ने कहा कि शासन को किराया बढ़ोत्तरी का प्रस्ताव बनाकर भेज दिया गया है. जल्द ही बढ़े हुए किराए की दर को अमल में भी लाया जाएगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें