इंदौर से मुंबई जा रहे ट्रक से 44 लाख के इंजेक्शन की चोरी, तीन आरोपी गिरफ्तार

Smart News Team, Last updated: Sat, 22nd May 2021, 6:00 PM IST
  • इंदौर के महू क्षेत्र की किशनगंज पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है. पुलिस ने ट्रक कटिंग कर 44 लाख रुपये के मिनोसाय्कलिन इंजेक्शन चुराने वाले आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके पास से इंजेक्शन के 17 बॉक्स और चोरी के दौरान इस्तेमाल की गई कार को जब्त किया है.
कंजर गिरोह के तीन बदमाश हुए गिरफ्तार .

इंदौर. कोरोना संकट काल के दौरान इलाज में काम मे आने वाले मिनोसाय्कलिन इंजेक्शन के 17 बॉक्स को ट्रक कटिंग कर हाइवे से चुराने वाले 4 सदस्यीय गिरोह के 3 आरोपियो को पुलिस ने अपनी गिरफ्त में ले लिया है. जानकारी के मुताबिक ट्रक के जरिये देवास नाका इंदौर से मुंबई जा रहे मीनोसाइक्लिन 1632 वायल को महू के किशनगंज थाना क्षेत्र के टिहि हाइवे पर ट्रक कटिंग कर चुरा लिया गया जिसके बाद आरोपी मौके से भाग गए.

इंदौर: ढलान की ओर कोरोना का तूफान, पिछले 24 घंटे में 2000 से ज्यादा हुए स्वस्थ

दरअसल, आगरा बॉम्बे हाइवे पर ट्रक कटिंग का ये मामला उस वक्त सामने आया जब ट्रक ड्राइवर ओमप्रकाश ने इस घटना की शिकायत महू के किशनगंज थाने में की. बताया जा रहा है कि आरोपी अज्ञात थे लेकिन उनके चोरी करने का तरीका देवास के कंजर गिरोह से मिलता जुलता था लिहाजा, किशनगंज महू पुलिस ने देवास में मुखबिर तंत्र को सक्रिय किया तो सामने आया कि पीपलरवा थाना क्षेत्र से चार लोग 17 मई को सफेद बलेनो कार से इंदौर गए थे. इसके बाद पुलिस ने जानकारी को पुख्ता किया और देवास की पीपलरवा पुलिस की मदद से कंजर डेरा देवास से तीन बदमाश रविन्द्र , सुकेश और धरम कंजर को गिरफ्तार कर लिया वही एक आरोपी की तलाश जारी है.

इंदौर में दो बहनों को NIA ने पकड़ा, सैन्य क्षेत्र की जानकारी भेजती थी पाकिस्तान

 इंदौर पश्चिम एसपी महेशचंद्र जैन ने बताया कि ट्रक के जरिए मिनोसाय्कलिन इंजेक्शन और अन्य दवाइयां भरकर मुंबई ले जाया जा रहा था तब ही हाइवे पर बदमाशों ने ट्रक कटिंग की वारदात को अंजाम देकर मिनोसाय्कलिन की 1632 वायल के 17 बॉक्स चुरा लिए थे. जिनकी कीमत 44 लाख रुपये से ज्यादा है लेकिन महू पुलिस ने इस पूरे मामले का पर्दाफाश कर कंजर गिरोह के सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया है वही उनसे पुलिस की पूछताछ जारी है. किशनगंज पुलिस ने आरोपियों के पास चुराए गए इंजेक्शन और कार को जब्त कर लिया है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें