इंदौर: हवाला रैकेट के ऑफिस में छापेमारी, 10 लाख नगदी व नोट गिनने वाली मशीन मिली

Smart News Team, Last updated: 07/10/2020 11:42 AM IST
  • हवाला रैकेट में रुपए छिपाने वाली बनियान मिली, बनियान में दर्जनों जेबे थी जिनमें रुपए छिपाकर लाए जाते थे. क्राइम ब्रांच ने छापेमारी में छह आरोपी पकड़े, गुजरात निवासी आरोपी सिल्वर मॉल में कोरियर ऑफिस की आड़ में करीब 5 साल से हवाला का लेन-देन हो रहा था.
हवाला रैकेट के ऑफिस में छापेमारी

इंदौर। इंदौर में हवाला का कारोबार कर रहे गुजरात के रहने वाले दो भाइयों को पुलिस ने छापेमारी कर गिरफ्तार कर लिया है. इनके पास से 10 लाख रुपए से अधिक नगदी बरामद किए गए हैं जबकि मौके पर रुपए गिनने वाली मशीन भी बरामद हुई है. इसके अलावा पुलिस ने हवाला का पैसा लाने ले जाने के लिए स्पेशल किस्म की बनियान बरामद की है जिसमें दर्जनों पॉकेट बने हुए हैं. पुलिस ने मौके पर छापेमारी कर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. छापेमारी के दौरान कुल 6 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है.

बता दें कि गुजरात निवासी दो भाई सिल्वर मॉल में कोरियर ऑफिस की आड़ में करीब 5 वर्षों से हवाला के रुपयों का लेनदेन कर रहे थे. इसके एवज में यह 300 से 500 रुपये प्रति लाख कमीशन लेते थे. आरोपी कोड के जरिए लाखों रुपए का लेन देन एक शहर से दूसरे शहर में करते थे. टीम को छापेमारी के दौरान 10 लाख 26 हजार 700 रुपये नगद, नोट गिनने वाली इलेक्ट्रिक मशीन, पैसों को रखने वाली एक स्पेशल बनियान मिली है. इस बनियान में रुपयों को रखने के लिए दर्जनों बड़ी-बड़ी जेबें हैं जिसमें आसानी से पैसे छिपाकर एक जगह से दूसरी जगह लाया ले जाया जा सकता है.

इंदौर: दुर्गा पूजा में रख सकेंगे 6 फीट ऊंची प्रतिमा, रामलीला और रावण दहन भी होगा

इसके अलावा एक रजिस्टर भी पुलिस ने बरामद किया है जिसमें हवाला के लेनदेन संबंधी कोड लिखे हुए हैं. इसके अलावा रजिस्टर में संपूर्ण लेन देन का लेखा जोखा लिखा है.साथ ही अन्य कागजात भी पुलिस ने बरामद किए हैं. पुलिस ने सभी सामानों को जब्त कर ऑफिस को सील कर दिया है.

क्राइम ब्रांच ने मुखबिर की सूचना पर गुजरात निवासी व्यक्तियों को इंदौर के सिल्वर मॉल में संचालित करने के आरोप में गिरफ्तार किया है.टीम ने तुकोगंज पुलिस के साथ रात में सिल्वर मॉल की पहली मंजिल 105 बी ब्लॉक में छापेमारी कर गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने आरोपी दिनेश जैन, सलीम, मंजूर अली, सिमरन सिंह, राजेंद्र राठौर, संजय को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.

कोरियर कंपनी के नाम पर चलाते थे हवाला का कारोबार

पिछले 5 सालों से गुजरात के रहने वाले राजेंद्र और संजय इंदौर में एक ऑफिस चला रहे हैं.इस ऑफिस में कोरियर के काम की होर्डिंग लगी हुई है जिसमें हवाला संबंधी पैसों का लेनदेन किया जा रहा था. आरोपियों ने बताया कि वह इंदौर के अलावा मुंबई, पुणे, बड़ोदरा, दिल्ली और लखनऊ जैसे शहरों में भी अपना कारोबार करते हैं.सभी शहरों में इनके गुर्गे के मौजूद हैं. जहां नगदी जमा कराकर कोड बता दिया जाता है. संबंधित लेनदार कोड बताकर इंदौर से रुपए ले लेता है.

इसी तरह जो लोग इंदौर में रुपए जमा करते हैं वे दूसरी जगहों पर बताए गए कोड से अन्य शहरों में रुपए ले लेते हैं. इसके लिए हवाला कंपनी द्वारा 300 से 500 रुपये प्रति लाख के हिसाब से कमीशन लिया जाता है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें