इंदौर: 3000 करोड़ की लागत से तैयार होगी इंदौर से सनावद तक की सड़क

Smart News Team, Last updated: 26/08/2020 07:56 AM IST
  • फोरलेन की जगह अब होगी सिक्स लेन इंदौर से खलघाट तक की सड़क केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने बड़ी सड़क योजनाओं का मंगलवार को भूमि पूजन और शिलान्यास किया केंद्रीय मंत्री ने करीब इंदौर व आसपास के लिए दिया 3500 करोड़ रुपए का प्रोजेक्‍ट
प्रतीकात्मक तस्वीर 

इंदौर। इंदौर से खलघाट तक बनने वाली सड़क फोरलेन की जगह अब सिक्स लेन बनने जा रही हैं.

इसके लिए केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने हाल ही में 3000 करोड़ रूपए के प्रोजेक्ट को मंजूरी दे दी है.

इस प्रोजेक्ट के लिए आवंटित धन को भी उन्होंने मंजूरी दे दी है. इसके अलावा आसपास क्षेत्र में सड़कों के जाल को और भी बेहतर बनाने के लिए 500 करोड़ रूपए अतिरिक्त धन आवंटित किए हैं.

इंदौर को केंद्र में रखकर केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने बड़ी सड़क योजनाओं का मंगलवार को भूमि पूजन और शिलान्यास किया. इसके अलावा लॉजिस्टिक हब बनाने की सांसद की मांग पर जमीन उपलब्ध करवाए जाने का निर्देश भी दिया.

केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी और मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार काे मध्यप्रदेश को 11427 करोड़ रुपए की योजनाओं की सौगात दी.

इसमें से करीब 3500 करोड़ रुपए के प्रोजेक्‍ट इंदौर व आसपास के क्षेत्रों के लिए दिए गए हैं.

कुल 1361 किमी लंबी 45 सड़क परियोजनाओं का लोकार्पण और भूमिपूजन ऑनलाइन कार्यक्रम द्वारा किया गया.

इस दौरान कार्यक्रम के लाइव प्रसारण में सांसद शंकर लालवानी, जल संसाधन मंत्री तुलसी सिलावट, शहर अध्यक्षा गौरव रणदीवे सहित एनएचएआई के अधिकारी मौजूद रहे.

साथ ही इंदौर से सनावद सड़क के लिए 3 हजार करोड़ रु. की मंजूरी भी दी है. इसके अलावा इंदौर से खलघाट 4 लेन सड़क को 6 लेन करने की मंजूरी मिल गई है.

इस दौरान सांसद शंकर लालवानी ने बताया कि इंदौर के लिए यह ऐतिहासिक दिन है. इंदौर को बड़ा औद्योगिक क्षेत्र बनाने की दिशा में बड़ा कदम उठाया गया है.

सांसद ने कहा कि अब देवास से ब्‍यावरा तक हाईवे बन जाने से आगरा होते हुए दिल्ली तक पहुंचना आसान होगा. इसी तरह इंदौर से बैतूल 4 लेन राजमार्ग के विभिन्‍न हिस्‍सों के निर्माण के लिए भूमिपूजन किया गया है.

ये सड़क राष्‍ट्रीय महत्‍व की है, क्‍योंकि ये देश के पश्चिमी हिस्‍से यानी पोरबंदर, राजकोट, अहमदाबाद को इंदौर, नागपुर, रायपुर होते हुए कोलकाता से जोड़ेगी.

ये दोनों सिरे बंदरगाह भी हैं और इससे इंदौर को सबसे अधिक फायदा मिलेगा. साथ ही सांसद ने झालावाड़ से उज्‍जैन सड़क को फोरलेन करने की मांग भी की थी, जिसे नितिन गडकरी ने मंजूरी दी है. अब कोटा, उज्‍जैन, इंदौर, अकोला, एदलाबाद होते हुए ये सड़क हैदराबाद तक जाएगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें