इंदौर: अब नहीं होगी लावारिस शवों की बेकद्री, रहेगा रिकॉर्ड

Smart News Team, Last updated: 20/09/2020 08:38 PM IST
  • इंदौर में लावारिस शवों की बेकद्री नहीं हो इसको लेकर संभाग के आयुक्त डॉ पवन कुमार शर्मा ने सख्त दिशा निर्देश दिए हैं. उन्होंने कहा कि एमवाय अस्पताल में आने वाले सभी शवों का रिकॉर्ड रखा जाए. जिससे कि यह जानकारी मिल सकेगी कि मृत्यु किस कारण से हुई और एमएलसी केस कितने रहे?
प्रतीकात्मक तस्वीर 

संभाग के आयुक्त डॉ शर्मा ने सभी शवों की जिम्मेदारी फॉरेंसिक विभाग को दी है.अब विभाग ही सभी शवों का रिकॉर्ड रखेगा और शव गृह की भी निगरानी रखेगा. उन्होंने रजिस्ट्रेशन काउंटर पर अलग अलग रजिस्टर में एंट्री करके शवों को शव ग्रह स्थित कोल्ड चेंबर मेंरखवाने के लिए भी निर्देशित किया है.

लावारिस शव का 2 दिन में होगा पोस्टमार्टम

डॉ शर्मा ने लावारिस शव का फॉरेंसिक यूनिट के शव गृह प्रभारी और थानाधिकारी को दो दिन में पोस्टमार्टम करवाकर अंतिम क्रियाकर्म करवाने के भी निर्देश दिए हैं.

यदि इसमें किसी भी तरह की कोताही बरती गई तो संबंधित अधिकारी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. उन्होंने कहा कि ज्ञात शव का उसी दिन पोस्टमार्टम व अन्य कार्रवाई पूरी कर ली जाए. इसके लिए शव गृह प्रभारी व थानाधकारी पाबंद रहेंगे.

इंदौर: NRI का आरोप, शिकायत पर कार्रवाई के बजाय उतारे कपड़े, नंगा करके पीटा

संभाग आयुक्त के इस निर्देश से काफी हद तक सुधार होने की संभावना है और लावारिस शवों की बेकद्री होने से भी बस सकेगी. साथ ही इस सख्ती के कारण शवों का रिकॉर्ड भी रखा जा सकेगा.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें