इंदौर: प्रेमिका के भाइयों की पिटाई से आहत होकर युवक ने खाया ज़हर

Smart News Team, Last updated: 24/08/2020 07:24 AM IST
  • संयोगितागंज थाना क्षेत्र के पीथमपुर की श्रीनाथ कॉलोनी मैं रहने वाले 28 वर्षीय अनिल ने जहर खाकर दी जान शनिवार को प्रेमिका के भाइयों ने युवक को बेरहमी से पीटकर बाइक छीन ली थी युवक पीथमपुर की एक कंपनी में ऑपरेटर के पद पर करता था काम
प्रतीकात्मक तस्वीर 

इंदौर। इंदौर जिले के संयोगितागंज थाना क्षेत्र के पीथमपुर के श्रीनाथ कॉलोनी में रहने वाले 28 वर्षीय अनिल ने प्रेमिका के भाइयों द्वारा पीटे जाने से आहत होकर आत्महत्या कर ली.

अनिल ने जहर खाकर अपनी जान दे दी. जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने अनिल के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया.

पुलिस आरोपियों की तलाश में जुटी हैं. घटना के बाद से ही प्रेमिका के भाई फरार चल रहे हैं.

युवक के पिता ने बताया कि बेटा रोज की तरह पीथमपुर स्थित कंपनी में काम पर गया हुआ था. शुक्रवार को कंपनी से लौटने पर रास्ते में उसे दो युवकों ने घेर लिया.

इसके बाद उन्होंने अनिल की बेरहमी से पिटाई की पिटाई के बाद उन्होंने उसकी मोटरसाइकिल भी छीन ली और उसे पैदल ही वहां से भेज दिया. इस घटना से वह बहुत आहत था.

इसके बाद शाम को वह घर पहुंचा. घर आते ही उसने अपने आप को कमरे में बंद कर लिया. मां ने बताया कि रात को वह भोजन भी नहीं किया और बिना खाए ही सो गया. उसके पीठ पर गहरी लाल धब्बे पड़े हुए थे. देखने से प्रतीत हो रहा था कि पीठ पर बेरहमी से सैकड़ों बेल्ट या कोड़े बरसाए गए हैं.

पिटाई की घटना से आहत होकर उसने रात में जहर खा लिया जिसके बाद अचानक रात में उसकी तबीयत खराब हुई. आनन-फानन में उसे युवक को एमवायएच में भर्ती कराया गया.

जहाँ इलाज के दौरान उसकी मौत हो गयी.युवक ने मरने से पहले अपना बयान दिया. युवक ने बयान में पुलिस को आरोपियों के नाम बताए हैं. इसके बाद से ही पुलिस उन युवकों की तलाश कर रही है. कई बार दबिश देने के बाद भी युवक नहीं मिले. अनिल के मौत की सूचना मिलते ही दोनों युवक फरार हो गए.

पिता से बनाया बहाना, मैकेनिक को बनने को दी है मोटरसाइकिल

पिता कुंदन ने बताया कि बेटा शनिवार शाम 4 बजे घर लौटा था. वह बिना बाइक के घर आया था. पिता ने जब मोटरसाइकिल के बारे में जानकारी ली तो अनिल मकैनिक को मोटरसाइकिल बन्नी के लिए दिए जाने का बहाना बनाया. बातचीत के लहजे से पिता को उसकी बातों पर संदेह हुआ जिसके बाद मां को उसके कमरे में जानकारी के लिए भेजा.

शाम को उसकी मां आई तो बेटा उलटा लेटा था. मां ने शर्ट हटाई तो अनिल की पीठ पर 40-50 बेल्ट के निशान थे. वह दर्द से कराह रहा था. उसने पूछने पर कुछ नहीं बताया.

फिर रात में उसने जहर खा लिया. उसे तत्काल अस्पताल ले गए, जहां से इंदौर रैफर किया गया. उसने किशनगंज पुलिस को बयान दिया है कि प्रेमिका के भाइयों ने उसे पीटा और बाइक छीन ली है. उसने पुलिस को आरोपियों के नाम भी बताए हैं. युवक के दो बच्चे भी हैं. फिलहाल, पुलिस जांच कर रही है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें