शराब माफिया गोलीकांड: गांधीनगर में मारपीट करने वाले अर्जुन गैंग के 5 आरोपी अरेस्ट

Smart News Team, Last updated: Fri, 30th Jul 2021, 3:10 PM IST
  • शराब व्यापारी गोलीकांड मामले में गांधीनगर थाना पुलिस ने अर्जुन ठाकुर दल के पांच लोगों को गुरुवार को गिरफ्तार किया है. इन लोगों पर गैंगस्टर सतीश भाऊ के साले और चिंटू ठाकुर गुट के युवकों के साथ मारपीट करने का आरोप है. वहीं सतीश भाऊ और चिंटू ठाकुर गोली चलाने के आरोप में विजय नगर थाने में बंद है.
 अर्जुन ठाकुर गुट के पांच लोग गिरफ्तार (प्रतीकात्मक तस्वीर)

इंदौर. शराब व्यापारी गोलीकांड मामले में एक नया मोड़ सामने आया है. इस मामले में अभी तक अर्जुन ठाकुर जानवाले हमले के फरियादी थे. लेकिन अब अर्जुन पर ही आरोप है कि उन पर गोली चलने से पूर्व उनके सहयोगियों ने गैंगस्टर सतीश भाऊ के साले और चिंटू ठाकुर गुट के युवकों को जमकर पीटा. इस मामले में गांधीनगर थाना पुलिस ने गुरुवार को अर्जुन ठाकुर दल के पांच लोगों को अरेस्ट किया है. बता दें कि विजय नगर थाने में सतीश भाऊ और चिंटू ठाकुर बंद है. दोनों पर अर्जुन ठाकुर पर जानलेवा हमला करने का आरोप है.

गांधी नगर थाना टीआइ संतोष सिंह यादव ने बताया कि कुछ दिन पहले विजय नगर स्थित सिंडिकेट ऑफिस में शराब कारोबारी अर्जुन ठाकुर पर गैंगस्टर सतीश भाऊ और चिंटू ठाकुर ने गोली चलाई थी. लेकिन इस वारदात से पूर्व अर्जुन ठाकुर के सहयोगियों ने उनके सहयोगी गौरव बाबू को गांधीनगर स्थित वाइन शॉप पर जमकर पीटा था. इस मामले में तीन दिन बाद एफआईआर दर्ज की गई. जिसके बाद गुरुवार रात को पुलिस ने सोनू, मोनू, रोहित समेत पांच लोगों को गिरफ्तार किया. लेकिन मोहित समेत कुछ लोग अभी फरार है.

शराब व्यापारी गोलीकांड: इंदौर पुलिस ने आरोपियों को भोपाल हाईवे से किया गिरफ्तार

गौरतलब है कि शराब कारोबारी अर्जुन ठाकुर की गांधी नगर में शराब की दुकान है. इस दुकान पर आरोपी कब्जा लेने आए थे. इसी दौरान कहासुनी में अर्जुन के पिता वीरेंद्र सिंह की तस्वीर फेंकने पर विवाद हो गया. जिसके बाद सिंडिकेट ऑफिस में समझौते के लिए दोनों पक्ष एकत्रित हुए थे. इसी दौरान अर्जुन ठाकुर पर गोली चली थी. उनकी शिकायत पर ही सतीश मराठा उर्फ सतीश भाऊ, चिंटू ठाकुर उर्फ हितेंद्र, रितेश करोसिया, हेमू ठाकुर, मोनू, लोकेश, पप्पू, सुजीत समेत अन्य आरोपी बनाए गए. इसके साथ ही अर्जुन ने बड़े शराब कारोबारियों पर भी साजिश का आरोप लगाया. लेकिन बाद में पुलिस ने अर्जुन पर ही आरोप लगा दिया.

 

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें