कलेक्शन एजेंट को लिफ्ट देकर दोस्तों से करवा दी लूट, फिर फरियादी बनकर पहुंचा थाने

Smart News Team, Last updated: Tue, 24th Nov 2020, 12:11 AM IST
  • इंदौर के एमओजी लाइन में शुक्रवार रात को हुई लूट के बाद अब इसका खुलासा हो गया है. जो काफी चौंकाने वाला है. दरअसल, लूट करने वाला फरियादी का दोस्त निकला.
इंदौर में सामने आया लूट का मामला

इंदौर.इंदौर के एमओजी लाइन में शुक्रवार रात को हुई लूट के बाद अब इसका खुलासा हो गया है. जो काफी चौंकाने वाला है. दरअसल, लूट करने वाला फरियादी का दोस्त निकला. जो खुद लिफ्ट लेकर साथी को घर छोड़ने जा रहा था. वहीं दूसरी तरफ उसने अपने क्रिमिनल दोस्तों को साजिश में ​शामिल कर रास्ते में पहले से खड़ा करवा लिया. उसी के सामने बदमाशों ने दोस्त को पीटा और लूटा. फिर आरोपी खुद पुलिस के पास फरियाद लेकर पहुंच गया.

इंदौर: डीआईजी के पास शिकायत लेकर पहुंचे दिव्यांग को इंतजार कराना पड़ा भारी

एसपी महेशचंद्र जैन ने बताया शुक्रवार रात को दोस्त अभिषेक की बाइक पर घर लौट रहे कमल लक्ष्मी नगर, सिरपुर के साथ अचानक लूट हो गई. कमल ने पुलिस को बताया कि वह बर्तन बाजार में राजेश लड्डा की दुकान पर काम करता है. दुकान से बड़वानी, धार सहित कई इलाकों में माल जाता है. महीने में 4-5 बार वह कलेक्शन करने चला जाता है. शुक्रवार को भी वह हरदा से दुकान के पैसे कलेक्शन करके लाया था. वह नवलखा उतरा जहां साथी अभिषेक के साथ उसकी एक्टिवा पर बैठकर जा रहा था, तभी एमओजी लाइन में जूपिटर से आए तीन बदमाशों ने उन्हें ओवरटेक कर रोका, अचानक मारपीट शुरू कर दी. फिर कमल का बैग छीनकर भाग गए. दोनों ने पुलिस को फोन लगाया और जानकारी दी. पुलिस ने जांच शुरू की. घटना स्थल पर एएसपी राजेश व्यास और टीआई पवन सिंघल पहुंचे. इसमें पता चला कि इस प्लान की साजिश अभिषेक ने रची थी. उसे पता था कि कमल अकसर कलेक्शन के पैसे लेकर घर जाता है. जिसके बाद उसने यह प्लान बनाया. हालांकि, जब अभिषेक से सख्ती से पूछताछ की गई तो उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें