यूपी से लड़की भगाकर MP गए नाबालिग की लव जिहाद के शक में पिटाई, सच खुला तो...

Nawab Ali, Last updated: Sun, 5th Sep 2021, 6:46 PM IST
  • उत्तर प्रदेश से लड़की भगा कर मध्यप्रदेश लाये नाबालिग युवक की भीड़ ने मुस्लिम युवक की पिटाई कर दी. कुछ हिन्दू संगठनो द्वारा नाबालिग के मुस्लिम होने का शक हुआ जिस पर उन्होंने नाबालिग की पिटाई कर दी. पुलिस ने पिटाई करने वाले लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है.
मध्यप्रदेश में लव जिहाद के शक में हिन्दू नाबालिग युवक की पिटाई. (फाइल फोटो)

इंदौर. मध्यप्रदेश में भीड़ द्वारा पिटाई के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं. मध्यप्रदेश में हाल ही में मोब लिंचिंग की कई घटनाएं सामने आई हैं. मध्यप्रदेश देवास में एक नाबालिग युवक की पिटाई का मामला प्रकाश में आया है. नाबालिग युवक यूपी से एक लड़की को भगाकर मध्यप्रदेश लाया था. कुछ हिन्दू संगठनो को युवक पर लव जिहाद करने का शक हुआ जिस पर कुछ हिन्दू संगठनों द्वारा पुलिस के सामने ही जमकर पिटाई कर दी. पिटाई का वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है. पिटाई के बाद खुलासा हुआ की युवक मुस्लिम नहीं हिन्दू था. पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है.

मध्यप्रदेश के देवास में एक 16 वर्षीय नाबालिग लड़का यूपी के बलिया से नाबालिग प्रेमिका को भगाकर लाया था. जिसके बाद कुछ लोगों को मामले की भनक लगी और पुलिस को सूचना दी गई. पुलिस ने नाकाबंदी कर दोनों को भरौसा टोल नाके पर पकड़ लिया इतने में ही कुछ हिन्दू संगठनो के लोग लड़की का पीछा करते हुए देवास के भरौसा टोल नाके पर पहुंच गए. लोगों  ने लोव जिहाद के शक में नबालिग लड़के की मुस्लिम समझ कर पिटाई करनी शुरू कर दी. इस दौरान मौके पर पुलिस खड़ी तमशा देखती रही. किसी ने पिटाई का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया. 

इंदौर में BJP नेता से भिड़ने पर सस्पेंड पुलिसकर्मियों को तोहफे में मिली बड़े थानों में पोस्टिंग!

सोनकच्छ क्षेत्र के एसडीपीओ प्रशांत सिंह भदौरिया ने कहा है कि मामला करीब चार दिन पहले का है. कुछ अज्ञात लोगों ने नाबालिग लड़के से मारपीट की है. लोगों को बताया गया कि मामला लव जिहाद का नहीं लेकिन भी पुलिस की बात ना मानते हुए मारपीट की गई. पुलिस ने वायरल वीडियो के आधार पर 15 अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है. लेकिन पिटाई मामले में अभी तक भी कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है. नाबालिग लकड़ी को परिवार को सौंप दिया है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें