स्टार प्रचारको की लिस्ट से चुनाव आयोग ने हटाया कमलनाथ का नाम, SC जाएगी कांग्रेस

Smart News Team, Last updated: 30/10/2020 10:47 PM IST
  • मध्य प्रदेश उपचुनाव के चुनाव प्रचार में जोरदार तरीके से जुटे पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के खिलाफ चुनाव आयोग ने बड़ी कार्रवाई की है. दरअसल चुनाव आयोग ने कमलनाथ का नाम स्टार प्रचारकों की लिस्ट से हटा दिया है. कांग्रेस ने इस फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट जाने का फैसला किया है.
चुनाव आयोग ने स्टार प्रचारकों की लिस्ट से कमलनाथ का नाम हटा दिया है

मध्य प्रदेश उपचुनाव को लेकर चल रहे जोरदार चुनाव प्रचार के बीच बड़ी खबर सामने आई है. दरअसल चुनाव आयोग ने मध्य प्रदेश उपचुनाव में कांग्रेस पार्टी के लिए जोरदार चुनाव प्रचार कर रहे पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ का नाम पार्टी के स्टार प्रचारकों की लिस्ट से हटा दिया है. बता दें कि कमलनाथ के खिलाफ चुनाव आयोग ने यह कार्रवाई आचार संहिता उल्लंघन के कई मामले सामने आने के बाद की हैं. हालांकि कांग्रेस पार्टी ने पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के खिलाफ कई गई इस कार्रवाई के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट जाने का फैसला किया है.

बता दें कि कांग्रेस की मध्य प्रदेश ईकाई के मीडिया कॉर्डिनेटर नरेंद्र सलूजा ने कहा चुनाव आयोग की तरफ से पार्टी नेता कमलनाथ को स्टार प्रचारक का दर्जा खत्म कर दिया है. इस फैसले के खिलाफ पार्टी अदाल का रुख करेगी. मालूम हो कि मध्य प्रदेश में 3 नवंबर को 28 सीटों पर विधानसभा उपचुनाव होने जा रहा है. पिछले दिनों चुनाव प्रचार के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने महिला मंत्री के खिलाफ आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल किया था. इसी को लेकर चुनाव आयोग में शिकायत की गई थी.

चुनाव आयोग ने आदेश जारी कर कहा है कि आदर्श आचार संहिता के बार-बार उल्लंघन और उन्हें (कमलनाथ) को जारी की गई सलाह की पूरी तरह से अवहेलना करने को लेकर आयोग मध्य प्रदेश विधानसभा के आगामी उपचुनावों के लिए मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के राजनीतिक दल के नेता का दर्जा तत्काल प्रभाव से समाप्त करता है. चुनाव आयोग ने आगे कहा कि कमलनाथ को स्टार प्रचार के रूप में प्राधिकारियों द्वारा कोई अनुमति नहीं दी जाएगी.

थाने में जीतू पटवारी कर रहे थे प्रदर्शन,मंत्री समेत 200 कांग्रेसियों पर केस दर्ज

मालूम हो कि हाल ही में एक चुनावी सभा के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बीजेपी उम्मीदवार और मंत्री इमरती देवी के लिए आइटम शब्द का इस्तेमाल किया था. चौतरफा आलोचना का शिकार होने के बाद कमलनाथ ने कहा था कि आइटम अपमानजनक शब्द नहीं है. इस बयान के विरोध में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने उपवास रखा था. दोनों नेताओं ने कमलनाथ से प्रदेश की हर बेटी से माफी मांगने को कहा था.

इंदौर: कोरियर के नाम पर हवाला का कारोबार करने वालों पर अभी तक नहीं हुई कार्रवाई

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें