एमपी में नहीं मिलेगी बाहर के लोगों को सरकारी नौकरी, शिवराज सिंह का बड़ा ऐलान

Smart News Team, Last updated: 18/08/2020 04:37 PM IST
  • मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि राज्य के संसाधनों पर स्थानीय लोगों का अधिकार है. सरकारी नौकरियों में डोमिसाइल युवाओं को प्राथमिकता दी जाएगी.
मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि राज्य के युवाओं के लिए आरक्षित होंगी सरकारी नौकरियां.

भोपाल. मध्य प्रदेश सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि एमपी की सरकारी नौकरियां राज्य के लोगों के लिए आरक्षित होंगी. इसके लिए आवश्यक कानूनी बदलाव जल्द ही पेश किए जाएंगे.

राज्य सरकार ने मध्य प्रदेश के युवाओं के पक्ष में फैसला लेते हुए कहा कि एमपी के संसाधन राज्य के बच्चों के लिए हैं. इनपर उन्हीं का ही अधिकार है.

सीएम ने ट्वीट करके कहा कि बच्चे मेहनत से पढ़ेंगे और राज्य सेवाओं में काम करेंगे. इससे राज्य का भविष्य सुधरेगा. स्वतंत्रता दिवस पर भी शिवराज चौहान ने कहा था कि लोकल लोगों को सरकारी सेवाओं में प्राथमिकता दी जाएगी.  

इंदौर में सोशल साइट्स पर दोस्ती कर छात्रा से ठगे 4 लाख रूपए

जानकारी के लिए बता दें कि पिछले साल जुलाई में सीएम कमल नाथ ने कहा था कि राज्य में 70 प्रतिशत प्राइवेट नौकरियां लोकल लोगों के लिए रिजर्व की जाएंगी. 70 प्रतिशत सरकारी और प्राइवेट नौकरियां आरिक्षत करने को लेकर पहले भी कई बार राज्य सरकार द्वारा कहा गया है. 

फीस माफी की मांग कांग्रेसियों को पड़ी भारी, पुलिस ने किया लाठीचार्ज

गौरतलब है कि राज्य में 27 विधानसभा सीटों के लिए उपचुनाव होना है. जिसके लिए राज्य सरकार लोगों को लुभाने के लिए इस तरह के ऐलान कर रही है.  

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें