MP के बिजली कर्मियों की हड़ताल, अंधेरे में डूब सकता है पूरा मध्य प्रदेश, ये है मामला

Smart News Team, Last updated: Tue, 10th Aug 2021, 7:35 PM IST
  • मध्य प्रदेश में मंगलवार को बिजली कर्मचारी एक दिन की हड़ताल पर रहे जो अब रात को भी जारी रह सकती है. अगर ऐसा हुआ तो बुधवार सुबह तक एमपी अंधेरे में डूब सकता है. प्रदेश में बिजली कर्मचारी इलेक्ट्रिसिटी अमेंडमेंट बिल को लेकर भी विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं.
MP के बिजली कर्मियों की हड़ताल, अंधेरे में डूब सकता है पूरा मध्य प्रदेश, ये है मामला (प्रतीकात्मक फोटो)

इंदौर. मध्य प्रदेश के बिजली कर्मचारियों ने केंद्र सरकार द्वारा लाए जा रहे इलेक्ट्रिसिटी अमेंडमेंट बिल के विरोध में मंगलवार को हड़ताल पर रहे. एमपी बिजली कर्मी मंगलवार को यूनाइटेड फोरम के बैनर तले एक दिन के हड़ताल पर है. बिजली कर्मियों के हड़ताल से इलेक्ट्रिसिटी संबंधित अधिकतम कार्य ठप्प ही रहे. वहीं यह हड़ताल रात में भी जारी रहती है तो एमपी अंधेरे में डूब सकता है. जिसके चलते आम लोगों की काफी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है. 

मध्य प्रदेश के बिजली हड़ताल पर जाने वाले नेता और कर्मचारियों का कहना है कि वह पिछले 15 साल से सरकार के सामने अपनी मांगों को रखते आए है. साथ ही कई बार सरकार के प्रतिनिधियों से मिलकर उन्हें ज्ञापन भी सौप चुके है. वहीं हर बार उन्हें अपनी मांगों को रखने पर सिर्फ अस्वाशन के अलावा कुछ नहीं मिला. हड़ताल पर गए कर्मचारियों ने आगे बताया कि पिछली बार वह सरकार के प्रतिनिधि से मिले थे. तब उन्हें अस्वाशन दिया गया था कि 15 जुलाई तक उनकी मांगों का निराकरण कर लिया जाएगा, लेकिन अभी तक कुछ नहीं हुआ है. 

राजस्थान और MP के रूट पर चलने वाली कई ट्रेनें रद्द, कुछ का शेड्यूल बदला, फुल लिस्ट

इसी दौरान बिजली कर्मचारियों ने अपनी 20 मांगों के बारे में भी बताया. उन्होंने कहा कि पेंशन फंड नीति को लेकर कर्मचारी काफी नाराज है. साथ ही कई सालों से नई भर्ती नहीं होने से हम पर काम का बोझ बढ़ता ही जा रहा है. साथ ही उन्होंने संविदा कर्मियों को नियमित करने की भी मांग की. इसके अलावा बिजली अमेंडमेंट बिल 2021 को लेकर भी वह विरोध प्रदर्शन कर रहे है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें