इंदौर सेक्स रैकेट: पार्लर में काम दिलाने के बहाने बांग्लादेश से होती थी लड़कियां

MRITYUNJAY CHAUDHARY, Last updated: Wed, 24th Nov 2021, 9:04 PM IST
  • मध्य प्रदेश में इंदौर पुलिस ने एक अंतरराष्ट्रीय सेक्स रैकेट के गिरोह का पर्दाफाश किया. इस गिरोह ने अभी तक 5000 हजार तक लड़किया देह व्यापार में उतर चूका है. साथ ही बांग्लादेश से पार्लर में काम करने के बहाने लड़कियों को भारत लाता और देह व्यापार के काम में लगा देता था.
इंदौर हाई प्रोफाइल सेक्स रैकेट: पार्लर में काम दिलाने के बहाने बांग्लादेश से होती थी लड़कियां सप्लाई

इंदौर. इंदौर पुलिस ने बुधवार को एक बड़े अंतरराष्ट्रीय सेक्स रैकेट का पर्दाफाश किया. जो अभी तक तकरीबन पांच हजार तक लड़कियों को देह व्यापार के काम में उतर चूका है. वहीं आरोपी इस गिरोह को करीब दस सालों से चला है. जिसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. वहीं पुलिस ने तस्कर को ड्रग्स तस्करी के संदेह में रोका था. जिससे पूछताछ के बाद सेक्स रैकेट का खुलासा हुआ. जो बांग्लादेश और भारत की लड़कियों को पार्लर में काम और नौकरी का झांसा देकर अपने पास बुलाता और धीरे धीरे उन देह व्यापार के धंधे में उतार देता.

इंदौर पुलिस के अनुसार ड्रग्स तस्कर विजय कुमार दत्त उर्फ मूमीन हुसैन को अरेस्ट किया गया है. जो पश्चिम बंगाल का रहने वाला बताया जा रहा है. जिसकी बांग्लादेश में भी एक पत्नी है. जिसे पोलइ ने ड्रग तस्करी के संदेह में गिरफ्तार किया था. जिसके पास से पुलिस को ड्रग्स भी मिला. वहीं उसके साथ दो युवतिया भी मिली. जब ड्रग तस्कर से पूछताछ शुरू हुई तो पूरा मामला सामने आ गया. साथ ही सेक्स रैकेट का भी खुलासा हुआ. जिसने बताया कि गिरोह द्वारा बांग्लादेश और भारत के बंगलुरू, मुंबई और अन्य बड़े नगरों में भी युवतियों को सप्लाई किया जाता है.

'एसिडिटी' की समस्या ने बदल दिया फ्लाइट का रास्ता, जारी किया गया इमरजेंसी अलर्ट

पुलिस के मुताबिक पूछताछ में यह भी सामने आया है कि वह बांग्लादेशी युवतियों को इंदौर लाता था. जिसके वह उन्हें वह अलग-अलग इलाकों में भेज देता था. वहीं इन युवतियों से कोड भाषा में बात होती. साथ ही एक कोस गाड़ी भी है. साथ ही दलाल, युवतियों और ग्राहक के बिच भी कोड में ही बात होती थी. वहीं तस्कर के पास से बांग्लादेश का पासपोर्ट भी मिला है. 

जानकारी के अनुसार विजय पहले पहले मुंबई में रहता था. जहां पर उसकी मुलाकात एक रूबी नाम की एक लड़की से हुई. जिसके मदद से वह सेक्स रैकेट में उतरा था. जो बांग्लादेश से गरीब लड़कियों को नौकरी का झांसा देकर भारत लाकर देह व्यापार में लगा देता था.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें