10वीं-12वीं परीक्षा से पहले MP बोर्ड ने बदला पैटर्न, अब ऐसे भरनी होगी आंसर शीट

Smart News Team, Last updated: Mon, 25th Jan 2021, 9:39 PM IST
  • वर्ष 2020-21 की होने वाली दसवीं और बारहवीं की बोर्ड परीक्षा में पैटर्न को लेकर कुछ बदलाव किए गए हैं. नए पैटर्न के अनुुसार अब बच्चों को पहले 30 मिनट में 30 प्रश्नों के जवाब देनें होंगे. इन प्रश्नों के हल ओएमआर शीट पर करने होंगे जिसमें अभ्यार्थी को केवल गोले भरने होंगे. इसके अलावा 10 प्रश्न 3 अंक के होंगे और 10 प्रश्न 4 अंकों के होंगे
एमपीबीएसई की दसवीं और बारहवीं के परीक्षा पैटर्न में बदलाव किया गया है.(प्रतीकात्मक फोटो)

इंदौर. मध्य प्रदेश मध्यम शिक्षा बोर्ड की वर्ष 2020-21 की होने वाली दसवीं और बारहवीं की बोर्ड परीक्षा में पैटर्न को लेकर कुछ बदलाव किए गए हैं. नये पैटर्न के अनुुसार अब बच्चों को पहले 30 मीनट में 30 प्रश्नों के जवाब देनें होंगे. इन प्रश्नों के हल ओएमआर शीट पर करने होंगे जिसमें अभ्यार्थी को केवल गोले भरने होंगे. इसके अलावा 10 प्रश्न 3 अंक के होंगे और 10 प्रश्न 4 अंकों के होंगे.

नए पैटर्न पर बात करते हुए माध्यमिक शिक्षा मंडल के अध्यक्ष राधेश्याम जुलानिया ने कहा कि नए पैटर्न में दसवीं और बाहरवीं कक्षा के परीक्षा में प्रत्येक पेपर में कुल 50 प्रश्न रहेंगे और कुल पूर्णांक 100 रहेगा. इसके लिए तीन और चार अंकों के प्रश्न को हल करने के लिए उत्तर पुस्तिका मिलेगी. इसके अलावा बच्चों को पहले 30 मिनट में हल करने के लिए ओएमआर शीट मिलेगी जिसमें 30 सवाल होंगे. सभी सवालों का जवाब शीट में गोला भरकर दिया जाएगा. ओएमआर शीट भरने के बाद छात्रों को 20 सवाल ऐसे मिलेंगे जिनके उत्तर कॉपी में लिखना होगा. इन 20 प्रश्नों के हल के लिए ढाई घंटे का समय दिया जाएगा. 

इंदौर: 70 करोड़ के ड्रग्स मामले के तार टी सीरीज के गुलशन कुमार की हत्या से जुड़े

बता दें की कोरोना के कारण प्रदेश में पहले से सब्जेक्ट को लेकर कटौती की गई है. इसके चलते इसमें बदलाव किये गए हैं. वहीं प्रदेश में 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं 30 अप्रैल से शुरू होकर मई के तीसरे सप्ताह तक चलेंगी. बोर्ड द्वारा जल्द ही परीक्षा का टाइम टेबल घोषित कर दिया जाएगा. ओएमआर प्रश्नों के बैंक को फरवरी में अपलोड किया जाएगा जिसमें प्रत्येक विषय के 500 प्रश्न होंगे.

इंदौर: पूर्व सीएम कमलनाथ ने कहा- किसानों की आवाज दबा रही है मध्य प्रदेश सरकार

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें