मध्य प्रदेश के जल संसाधन मंत्री सिलावट की कांग्रेस नेता जीतू पटवारी को सलाह

Smart News Team, Last updated: 27/08/2020 02:44 PM IST
  • मध्य प्रदेश की सियासत में कांग्रेस नेता जीतू पटवारी द्वारा ब्लैकमेलर शब्द का इस्तेमाल करने पर जल संसाधन मंत्री सिलावट का पलटवार, कांग्रेस नेता को मर्यादा में रहने की नसीहत दी
प्रतीकात्मक तस्वीर 

इंदौर. पिछले दिनों प्रदेश की सियासत में ब्लैकमेलर शब्द का इस्तेमाल करने वाले कांग्रेस सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे जीतू पटवारी को प्रदेश के जल संसाधन मंत्री तुलसी सिलावट ने मर्यादा में रहने की सलाह दी है. सिलावटने ने कहा कि जीतू पटवारी बहुत जल्दी में हैं. उनको किसी प्रकार का टीका-टिप्पणी करने से पहले सोचना चाहिए और मर्यादा का पालन करना चाहिए. दरअसल, बुधवार को राउ के विधायक जीतू पटवारी ने कमलनाथ सरकार पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाने वाले हाल ही में बीजेपी में शामिल हुए एक कद्दावर नेता को ब्लैकमेलर बताया था. साथ ही उन्होंने प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान पर भी वादा खिलाफी का आरोप लगाया था. इसके बाद गुरुवार सुबह प्रदेश के जल संसाधन मंत्री तुलसी सिलावट ने कहा कि जीतू पटवारी जो बोलते हैं, वो निराधार है और उनकी बातों का कोई सिर-पैर नहीं होता है. 

कांग्रेस धरातल पर चली गई है. इसलिए इनके पास बोलने के अलावा कुछ भी नहीं है. जल संसाधन मंत्री ने प्रदेश कांग्रेस के मीडिया प्रमुख जीतू पटवारी से कहा कि जब लक्ष्मण सिंह जी पार्टी से गए थे, तब भी इन्होंने अमर्यादित टिप्पणी की थी. मंत्री सिलावट ने भाजपा में शामिल हुए इस नेता के बारे में कहा कि प्रदेश की प्रगति, विकास, उन्नति, अन्नदाताओं, युवाओं और माता-बहनों के लिए उन्होंने कांग्रेस छोड़ी है. वही कांग्रेस अध्यक्ष पद के मामले पर किये सवाल पर मंत्री सिलावट ने कहा कि यह उनका अंदरुनी मामला है. उन्होंने एक बार फिर जीतू पटवारी को सलाह दी और कहा कि वो मर्यादा में रहें. उन्होंने पटवारी पर निशाना साधते हुए कहा कि कुछ लोगों को छपास का शौक है और अति उत्साह में इस प्रकार की भाषा का इस्तेमाल करते हैं, जो कि निंदनीय है. राजनीति में इस तरह की भाषा का प्रयोग नहीं करना चाहिए.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें