इंदौर के शहीद देवेंद्र पाल की पत्नी, टीआई यशवंत की बेटी को मिली सरकारी नौकरी

Smart News Team, Last updated: 15/08/2020 11:52 PM IST
  • -इंदौर में कोरोना की चपेट में आने शहीद हुए थाना प्रभारी देवेंद्र की पत्नी सुषमा और टीआई यशवंत पाल की बेटी फाल्गुनी को गृहमंत्री ने आज उपनिरीक्षक पद पर नियुक्ति पत्र सौंपा, साथ ही मुख्यमंत्री ने दोनों परिवारों को 50 लाख रूपए की आर्थिक सहायता भी दी.
प्रतीकात्मक तस्वीर 

एमपी के इंदौर में कोरोना के बढ़ते कहर ने बीते दिनों दो पुलिस अधिकारियों को अपनी चपेट में ले लिया था. उसके बाद दोनों की मौत भी हो गई थी. शिवराज सरकार ने दोनों को शहीद का दर्जा भी दिया था. आज मुख्यमंत्री ने जहां दोनों परिवारों को 50-50 लाख रूपए की सहायता राशि दी. वहीं गृहमंत्री ने दोनों के आश्रितों को पुलिस सेवा में नौकरी का नियुक्ति पत्र सौंपा.

दरअसल पुलिस सेवा में कार्यरत थानाप्रभारी देवेंद्र पाल की और टीआई यशवंत पाल की कोरोना में चपेट में आने के बाद शहीद होने पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने आज स्वतंत्रता दिवस पर अपने संबोधन में दोनों ही परिवारों की बड़ी आर्थिक सहायता के साथ सरकारी नौकरी देने का ऐलान किया है. गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने आज थाना प्रभारी देवेंद्र की पत्नी सुषमा और टीआई यशवंत पाल की बेटी फाल्गुनी को उपनिरीक्षक पद पर नियुक्ति पत्र सौंपा है. साथ ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने परिवारजनों को 50-50 लाख रूपए की आर्थिक सहायता राशि भी दी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें