मोदी कैबिनेट विस्तार: MP से ज्योतिरादित्य सिंधिया और वीरेंद्र खटीक नए मंत्री

Smart News Team, Last updated: Thu, 8th Jul 2021, 7:34 AM IST
  • नरेंद्र मोदी सरकार के 2019 के बाद के पहले मंत्री परिषद विस्तार में मध्य प्रदेश से ज्योतिरादित्य सिंधिया और वीरेंद्र कुमार खटीक को मंत्री के तौर पर केंद्र सरकार में शामिल किया गया है. 
नरेंद्र मोदी सरकार में मध्य प्रदेश से ज्योतिरादित्य सिंधिया और वीरेंद्र खटीक को बतौर कैबिनेट मंत्री शामिल किया गया है.

इंदौर. नरेंद्र मोदी सरकार के मंत्री परिषद विस्तार में मध्य प्रदेश में दोबारा कमल खिलाने के सूत्रधार ज्योतिरादित्य सिंधिया को कैबिनेट मंत्री बनाया गया है. सिंधिया के अलावा एमपी से बीजेपी नेता वीरेंद्र कुमार खटीक को भी मंत्रिमंडल में शामिल किया गया है.

ज्योतिरादित्य सिंधिया राजनीतिक प्रोफाइल Jyotiraditya Scindia Political Profile 

ज्योतिरादित्य सिंधिया मोदी कैबिनेट में नागरिक उड्डयन मंत्री बनाए गए हैं. ज्योतिरादित्य सिंधिया अपने पिता और देश के बड़े नेता माधव राव सिंधिया का हेलिकॉप्टर दुर्घटना में निधन के बाद पहली बार राजनीति में आए. गुना लोकसभा उपचुनाव में पहली बार बीजेपी के देशराज सिंह यादव को 45 हजार वोट से हराकर जीते थे. ज्योतिरादित्य सिंधिया गुना सीट से 4 बार एमपी रहे हैं. 

यूपीए सरकार में सिंधिया पहली बार 2007 में मंत्री बने और दूरसंचार मंत्री बने थे. मोदी लहर में सिंधिया 2019 का लोकसभा चुनाव कांग्रेस से लड़ने के कारण हार गए थे. मार्च 2020 में सिंधिया ने बीजेपी की सदस्यता ली और उनके कद का अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि बीजेपी अध्यक्ष ने उनको शामिल किया था. उनके बीजेपी में आने से एमपी में कांग्रेस की कमलनाथ सरकार गिर गई और दोबारा शिवराज सिंह चौहान की अगुवाई में बीजेपी सरकार बनी. 

LIVE: UP, बिहार, MP, राजस्थान, झारखंड से मोदी मंत्रिमंडल विस्तार में नए मंत्री ?

वीरेंद्र कुमार खटीक राजनीतिक प्रोफाइल Virendra Kumar Khatik Political Profile 

वीरेंद्र कुमार को मोदी कैबिनेट में सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री बनाया गया है. डॉ वीरेंद्र कुमार खटीक मध्य प्रदेश की टीकमगढ़ लोकसभा सीट से सांसद हैं. वीरेंद्र खटीक राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ में भी विभिन्न पदों का दायित्व संभाल चुके हैं. खटीक एक समय रोजी-रोटी के लिए साइकिल पंचर तक लगाते थे. जमीन से केंद्रीय मंत्री तक का खटीक का सफर मिसाल है. अपने सीधेपन के लिए मशहूर खटीक टीकमगढ़ लोकसभा सीट से 1996 से लगातार सांसद हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें