इंदौर: Amazon से गांजा के बाद जहर की डिलीवरी, गृह मंत्री बोलें- जल्द बनेगी ई कॉमर्स के लिए नीति

Somya Sri, Last updated: Wed, 24th Nov 2021, 2:06 PM IST
  • हाल ही में मध्य प्रदेश के भिंड में अमेजन से गांजा की डिलीवरी हुई थी. अब खबर है कि इंदौर में ई कॉमर्स कंपनी अमेजन से जहर की डिलीवरी हुई है. इसपर मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने मीडिया से मुखातिब होते हुए कहा है कि जल्द ही ई-कॉमर्स के लिए पॉलिसी बनाई जाएगी. उन्होंने कहा कि इन मामलों में आशंका बनी रहेगी कि कभी भी कोई व्यक्ति अमेजन से हथियारों की तस्करी भी कर सकता है.
मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा (फाइल फोटो)

इंदौर: मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने मीडिया से मुखातिब होते हुए प्रदेश में गांजा और जहर की डिलीवरी पर कहा है कि अब जल्द ही ई-कॉमर्स के लिए पॉलिसी बनाई जाएगी. हाल ही में मध्य प्रदेश के भिंड में अमेजन से गांजा की डिलीवरी हुई थी. अब खबर है कि इंदौर में अमेजन से जहर की डिलीवरी हुई है. इसपर गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि, "अभी तो गांजा तस्करी में ही उसका उपयोग सामने आया है और कंपनी के अधिकारियों को प्रकरण की जांच के लिए बुलाया गया है. मगर यह मामला और गंभीर हो गया है क्योंकि इंदौर में एक व्यक्ति द्वारा इस कंपनी से जहर मंगाया जाना भी सामने आ चुका है." उन्होंने कहा कि, " ऐसे में यह आशंका बनी रहेगी कि कभी भी कोई व्यक्ति अमेजन से हथियारों की तस्करी भी कर सकता है."

जल्द ही ई-कॉमर्स कंपनियों के लिए बनेगी नीति

गृह मंत्री ने कहा कि, " प्रदेश सरकार जल्द ही अमेजन और अन्य ई-कॉमर्स कंपनियों के लिए कोई नीति बनाने का प्रस्ताव तैयार करेगी. प्रदेश सरकार अपने प्रस्ताव को केंद्र सरकार को भेजकर उसे लागू कराने की कोशिश करेगी." नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि, "ई-कॉमर्स कंपनियों से सामान मंगाने या भेजने पर किसी तरह का अभी नियंत्रण नहीं है. ई-कॉमर्स नीते से यह संभव है."

आधी रात में सड़क पर एक्सरसाइज करते इंदौर के सिंघम का Video Viral, डंबल उठा किया धमाल

अमेजन कंपनी का हो बहिष्कार

वहीं संस्कृति बचाओ मंच के चंद्रशेखर तिवारी ने कहा कि, "अमेजन को भारत ने इतना बड़ा प्लेटफार्म दिया है लेकिन वह इसका इस्तेमाल देश के युवाओं को नशे की लत में डालने के लिए गांजा तस्करी कर रहा है." उन्होंने अमेजन कंपनी के बहिष्कार की बात कही.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें