मध्य प्रदेश: 18 दिसंबर से कक्षा 10 और 12 के स्कूल और 1 जनवरी से कॉलेज खुलेंगे

Smart News Team, Last updated: 15/12/2020 10:32 AM IST
  • उच्च शिक्षा विभाग की बैठकों में स्कूलों और कॉलेजों को फिर से खोलने के निर्णय लिया गया. कक्षा 5 और कक्षा 8 के छात्रों को असाइनमेंट और प्रोजेक्ट के अंक के आधार पर पदोन्नत किया जाएगा. मुख्यमंत्री ने कहा कक्षा 1 से कक्षा 8 तक के स्कूलों को 1 अप्रैल, 2021 से फिर से खोला जाएगा.
मध्य प्रदेश: 18 दिसंबर से कक्षा 10 और 12 के स्कूल और 1 जनवरी से कॉलेज खुलेंगे

इंदौर: मध्य प्रदेश सरकार 18 दिसंबर से कक्षा 10 और 12 के लिए स्कूल खोलने जा रही है, जबकि 1 जनवरी से कॉलेज फिर से खोले जाएंगे. सोमवार को भोपाल में स्कूल शिक्षा विभाग और उच्च शिक्षा विभाग की बैठकों में स्कूलों और कॉलेजों को फिर से खोलने के निर्णय लिए गए.

स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार ने कहा, “बोर्ड परीक्षा की तैयारी में छात्रों की मदद करने के लिए कक्षा 10 और 12 के लिए स्कूल खोलने का निर्णय लिया गया है. विभाग ने स्कूलों के प्रशासनों को COVID 19 के दिशानिर्देशों का पालन करने के लिए कहा है, जिसमें उचित स्वच्छता, मास्क का उपयोग करना और शारिरिक दूरी को बनाए रखना शामिल है. 

इंदौर में एंटी माफिया मुहिम : इस्लाम पटेल और हेमंत बुंदेला के मकान ध्वस्त

मंत्री ने कहा कि इस सप्ताह के अंत तक स्कूल के प्रधानाचार्यों को कक्षा 9 और 11 के लिए स्कूलों को फिर से खोलने का निर्णय लेने के लिए कहा गया है.

इससे पहले, 4 दिसंबर को आयोजित स्कूल शिक्षा विभाग की समीक्षा बैठक में, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने घोषणा की कि कक्षा 1 से कक्षा 8 तक के स्कूलों को 1 अप्रैल, 2021 से फिर से खोला जाएगा.

कक्षा 5 और कक्षा 8 के छात्रों को पदोन्नत करके उच्च कक्षा में भेजा जाएगा. स्कूल शिक्षा विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि परियोजना (प्रोजेक्ट असाइनमेंट) के काम में उनके प्रदर्शन के आधार पर उच्च कक्षाओं में पदोन्नत किया गया.

इंदौर में दुकान का ताला तोड़कर चुरा ले गए 12 बोर की दो बंदूक

इस बीच, उच्च शिक्षा मंत्री मोहन सिंह यादव ने कहा कि 1 जनवरी से चरणबद्ध तरीके से मप्र के महाविद्यालयों को फिर से खोला जाएगा. कॉलेजों में नियमित प्रैक्टिकल कक्षाएं 1 जनवरी से शुरू की जाएंगी. स्नातक कक्षाएं 10 जनवरी से और शेष कक्षाएं 20 जनवरी से फिर से खोली जाएंगी.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें