इंदौर पुलिस का बड़ा खुलासा, छोटू महाराज पुरुष नहीं बल्कि महिला, तंत्र विद्या के नाम पर करती थी ठगी

Prachi Tandon, Last updated: Fri, 22nd Oct 2021, 10:46 AM IST
  • इंदौर पुलिस ने तंत्र-मंत्र के नाम पर लोगों से ठगी करने वाले मामले में दो बड़े खुलासे किए हैं. पुलिस ने बताया कि छोटू महाराज पुरुष नहीं बल्कि महिला है. वह शादीशुदा भी है. नकली पुलिस अफसर भी छोटू महाराज के साथ मिलकर लोगों के साथ ठगी करता था.
इंदौर में तंत्र-मंत्र के नाम पर लोगों को ठगी का शिकार बनाने वाले छोटू महाराज का भंडाफोड़ हुआ.

इंदौर. मध्यप्रदेश में एक तांत्रिक के पाखंड के साथ नकली पुलिस अफसर का भंडाफोड़ हुआ है. एमपी में आश्रम चलाने वाले तांत्रिक छोटू महाराज के बारे में पुलिस ने पहला खुलासा किया है कि वह पुरुष नहीं बल्कि एक महिला है. छोटू महाराज का असली नाम सीमानंद गिरी है. यह लोग तंत्र विद्या के नाम पर लोगों के ठगी करते थे. इसी के साथ पुलिस ने दूसरा बड़ा खुलासा नकली पुलिस अफसर रवि सोलंकी उर्फ राजवीर और छोटू महाराज उर्फ सीमा नंदगिरि के संबंधों को लेकर किया है. यह दोनों मिलकर लोगों को रेलवे और पुलिस में नौकरी का झांसा देकर लाखों रुपए की ठगी करते थे. पुलिस के अनुसार छोटू महाराज और नकली अफसर रवि सोलंकी 25 अक्टूबर तक पुलिस की हिरासत में हैं.

इंदौर पुलिस ने छोटू महाराज समेत उसके दो चेलों को कस्टडी में लिया है. छोटू महाराज के साथ उसके चेले करण बाबा और उमेश को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है. वहीं पुलिस उनके अन्य साथी विष्णु की तलाश में जुटी हुई है.

इंदौर एसपी आशुतोष बागरी के अनुसार छोटू महाराज अपने आश्रम में आने वाले लोगों को रवि से अपना बेटा और आईपीएस अफसर कहकर मिलवाता था. पुलिस के अनुसार आश्रम में आने वाले युवक-युवतियों को रेलवे औऱ पुलिस में नौकरी का झांसा दिया जाता था. कई युवतियों और युवक से नौकरी दिलाने के नाम पर लाखों रुपए की ठगी की गई थी. यही नहीं रवि नौकरी के नाम पर लड़कियों को झांसे में लेकर उनका शारीरिक शोषण करता था. इंदौर की रहने वाली एक युवती ने अपने साथ हुई जालसाजी और कुकर्म की बात बताई थी.  

MP के तांत्रिक बंटी-बबली का भंडाफोड़, तंत्र-मंत्र के नाम पर ऐसे बनाते थे शिकार

तांत्रिक छोटू महाराज उर्फ सीमा नंदगिरी के बारे में पुलिस ने बताया कि कुछ सालों पहले पंजाब से इंदौर आए एक ज्योतिषी ने सुसाइड कर ली थी. सुसाइड मामले में सीमा नंदगिरी का नाम भी सामने आया था. ज्योतिषी के आत्महत्या करने के बाद छोटू महाराज ने उसके इंदौर और उज्जैन के आश्रमों पर कब्जा कर लिया था. पुलिस ने बताया कि छोटू महाराज उर्फ सीमा कुछ सालों पहले अपने पति और बच्चों के साथ आंबेडकर नगर में रहती थी. लेकिन पति के साथ अनबन के बाद वह अलग रहने लगी. सुपर कॉरिडोर स्थित 2016 में सीमा ने पुरुष जैसा हुलिया धारण कर लिया और आश्रम के महाराज से दीक्षा ले ली थी. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें