इंदौर : अनैतिक कार्य संचालित करने वाले होटल को किया जमींदोज

Smart News Team, Last updated: Sun, 10th Jan 2021, 8:18 PM IST
  • इंदौर में गुंडा विरोधी मुहिम के तहत नगर निगम और जिला प्रशासन नियमों की अवहेलना कर या अतिक्रमण कर बनाई गई बिल्डिंग पर लगातार कार्रवाई कर रही है. अब गुंडे,  ड्रग माफिया, भूमाफिया के अलावा अनैतिक कार्य संचालित करने वाले होटलों पर भी निगम का बुलडोजर चलना शुरू हो गया है.
बिल्डिंग को ढहाती नगर निगम की जेसीबी

इंदौर. इंदौर में रविवार सुबह नगर निगम की जेसीबी का पंजा पिपलियहाना और महालक्ष्मी नगर की होटलों पर चला. बाहरी तौर पर तो यह भवन निर्माणाधीन नजर आ रहा है, लेकिन प्रशासन को यहां होटल संचालित होने की सूचना मिली थी. यहां तक कि होटल में अनैतिक कार्य होने की सूचना मिली थी, जो जांच करने पर सही पाई गई. प्रशासन अब भवन मालिक पर भी कार्रवाई की तैयारी कर रहा है. 

दरअसल, गुंडा विरोधी मुहिम के तहत नगर निगम और जिला प्रशासन नियमों की अवहेलना कर या अतिक्रमण कर बनाई गई बिल्डिंग पर लगातार कार्रवाई कर रही है. अब गुंडे,  ड्रग माफिया, भूमाफिया और अनैतिक कार्य संचालित करने वाले होटलों पर भी निगम का बुलडोजर चलना शुरू हो गया है. नगर निगम और जिला प्रशासन शहर को क्लीन सिटी बनाने में लगा हुआ है. जिस तरह कूड़े कचरे को शहर से बाहर किया जा रहा है, वैसे ही शहर के अंदर अनैतिक कार्य करने वालों और माफियाओं पर भी सबक सिखाने का काम लगातार जारी है. निगम और जिला प्रशासन ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए शहर के महालक्ष्मी नगर में बनी होटल पर रिमूवल की कार्रवाई की. प्रशासन को सूचना मिली थी कि इस होटल में अनैतिक कार्य संचालित किया जा रहा है. छानबीन करने पर इसकी पुष्टि हुई थी. इसी वजह से इस पर रविवार सुबह नगर निगम द्वारा तोड़फोड़ की कार्रवाई की गई. 

MP के बाहर काम पर जाने वाली महिलाओं का होगा रजिस्ट्रेशन: CM शिवराज

इंदौर नगर निगम उपायुक्त देवेन्द्र सिंह ने बताया कि पिपलियाहाना स्थित होटल स्वीट हार्ट पर नगर निगम की टीम ने तोड़फोड़ की कार्रवाई की. यहां पर शिकायत के आधार पर कमरों में कई आपत्तिजनक सामग्री भी मिली. लंबे समय से पुलिस को यह सूचना थी कि होटल की आड़ में संचालक कई अनैतिक गतिविधियां भी संचालित कर रहा है. होटल मालिक मोहम्मद अली उस्मानी के खिलाफ शहर के विभिन्न थानों में प्रकरण दर्ज है. वहीं दूसरी कारर्वाई गोपाल कुमावत द्वारा लसुडिया थाना क्षेत्र में कमर्शियल कॉम्प्लेक्स पर की गई. यहां नियम के अनुसार बिल्डिंग के आसपास एमओएस नहीं छोड़े जाने के कारण यह कार्रवाई की गई.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें