इंदौर में एक लाख से अधिक टैक्स के बकायदारों की संपत्ति कुर्क करेगा नगर निगम

Smart News Team, Last updated: Thu, 4th Feb 2021, 7:59 PM IST
  • इंदौर में नगर निगम ने कर न भरने वालों के खिलाफ सख्त ऐक्शन लेने की ठान ली है. नगर निगम ने यह फैसला किया है कि जिस किसी पर भी एक लाख से अधिक का टैक्स बकाया है, उनकी संपत्ति नगर निगम विभाग कुर्क कर देगा.
नगर निगम, इंदौर (फाइल तस्वीर)

इंदौर में नगर निगम ने कर न भरने वालों के खिलाफ सख्त ऐक्शन लेने की ठान ली है. नगर निगम ने यह फैसला किया है कि जिस किसी पर भी एक लाख से अधिक का टैक्स बकाया है, उनकी संपत्ति नगर निगम विभाग कुर्क कर देगा. ये निर्देश निगमायुक्त ने राजस्व विभाग की समीक्षा बैठ के दौरान लिया है. बैठक में कचरा प्रबंधन शुल्क का टारगेट पूरा करने पर अपर आयुक्त के साथ ही बिल कलेक्टरों को भी सम्मानित किया गया.

बताया जा रहा है कि इंदौर देश का पहला ऐसा शहर है, जिसने 31 दिसंबर, 2020 तक कचरा प्रबंधन शुल्क की रिकॉर्ड वसूली पूरी की. कचरना प्रबंधन शुल्क की डिमांड का करीब 75 प्रतिशत जहां रिहायशी क्षेत्रों से वसूला गया है तो वहीं शुल्क का करीब 90 प्रतिशत व्यावसायिक क्षेत्रों से वसूला गया है. बैठक में निगमायुक्त ने बताया कि वित्तीय वर्ष के बाकी दो महीने में वसूली पर भी विशेष ध्यान दिया जाएगा.

इंदौर में सुप्रीम कोर्ट ने दिये निजी मेडिकल कॉलेजों में सीट भरने के निर्देश

निगमायुक्त की बैठक के दौरान ही निगमायुक्त ने कहा कि वित्तीय वर्ष के शेष दो माह में वसूली पर विशेष ध्यान दिया जाए. यदि हम करदाताओं तक पहुंच जाते हैं तो लोग निश्चित रूप से कर का भुगतान करते हैं. निगमायुक्त ने बैठक के दौरान अपर आयुक्त राजस्व एस. कृष्ण चैतन्य, उपायुक्त अरुण शर्मा, लता अग्रवाल, अतुल रावत, हरीश बारगल, संजय पंवार, अरविंद नायक, मयंक जैन, महेंद्र राठौर, राजेश परमार, सुरेंद्र खरे, मनीष जैन, अर्पित चावड़ा को स्मृति चिह्न देकर सम्मानित किया गया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें