इंदौर: मुस्लिम परिवार का आरोप, गांव खाली न करने पर भीड़ ने किया हमला

Ankul Kaushik, Last updated: Sun, 10th Oct 2021, 5:10 PM IST
  • मध्य प्रदेश के इंदौर में दो पक्षों में विवाद हो गया है. इस विवाद के चलते मुस्लिम समुदाय के पीड़ित परिवार के लोगों का आरोप है कि उनके उपर गांव खाली न करने पर भीड़ ने हमला किया है. वहीं इस मामले में दोनों पक्षों के खिलाफ एक-दूसरे की शिकायत पर एफआईआर दर्ज की गई.
गांव ने खाली करने के कारण इंदौर में मुस्लिम परिवार के साथ मारपीट

इंदौर. मध्य प्रदेश के इंदौर में दो समुदाय में शनिवार देर रात विवाद हो गया. इस विवाद में मुस्लिम परिवार का आरोप है कि दूसरे पक्ष ने उन्हें हिंदू बहुल पिवड़ाय गांव को नौ अक्टूबर तक खाली करने का फरमान सुनाया है. वहीं हमने इस फरमान को नहीं माना तो भीड़ ने हम हमला कर दिया. इस झगड़े को लेकर पुलिस ने कहा कि इस विवाद में एक ही परिवार के पांच सदस्यों समेत सात लोग घायल हो गए है. इसके साथ ही दोनों पक्षों के खिलाफ एक-दूसरे की शिकायत पर एफआईआर दर्ज की गई है. वहीं सोशल मीडिया पर इस घटना को लेकर कई तरह की बातें सामने आ रही हैं इसके साथ ही इसे सांप्रदायिक रंग भी दिया जा रहा है.

यह घटना इंदौर के जिला मुख्यालय से करीब 20 किलोमीटर दूर पिवड़ाय गांव में हुई है. इस विवाद को लोग सोशल मीडिया पर हिंदू मुस्लिम विवाद का नाम भी दे रहे हैं जिसमें एक ही मुस्लिम परिवार के पांच लोग तथा हिंदू पक्ष के दो व्यक्ति शामिल हैं. वहीं कई लोग इसमें घायल भी हुए हैं, हालांकि घायलों को चोटें कम आई हैं. इस घटना को लेकर पुलिस अधीक्षक महेशचंद्र जैन ने कहा कि मुस्लिम पक्ष द्वारा आरोप लगाया गया था कि हिंदू बहुल गांव खाली करने का फरमान की वजह से यह झगड़ा हुआ है. हालांकि इस तरह की कोई भी बात नहीं है क्योंकि यह विवाद लोहे का सामान बनाने की मरम्मत को लेकर हुआ है.

इंदौर: हिंदू धर्म में पैदा हुए मुस्लिम शख्स के अंतिम संस्कार को लेकर हुआ विवाद, जानिए क्या है मामला

हालांकि मुस्लिम पीड़ित परिवार की तरफ से उनके नजदीकी रिश्तेदार फजलुद्दीन पुलिस को बताया गया था दूसरे पक्ष ने नौ अक्टूबर तक यह गांव खाली करने का फरमान सुना दिया था. इसके बाद उन्होंने जब गांव खाली नहीं किया तो 30-40 ग्रामीणों ने शनिवार रात उसके परिवार पर हमला कर दिया. इस हमले में उनके परिवार की दो महिलाओं समेत पांच लोग घायल हो गए. पीड़ित परिवार का आरोप है कि भीड़ ने उन पर लोहे के औजारों से हमला किया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें