इंदौर-मुंबई हाईवे पर 1 करोड़ की चरस के साथ दो गिरफ्तार, पूछताछ में जुटी NCB

Uttam Kumar, Last updated: Mon, 6th Dec 2021, 12:46 PM IST
  • एनसीबी ने इंदौर-मुंबई हाईवे से शनिवार को दो लोगों को करीब एक किलो चरस के साथ गिरफ्तार किया है. जिसकी कुल कीमत एक करोड़ के करीब बताई जा रही है. एनसीबी की टीम दोनों से पूछताछ कर रही है. 
इंदौर-मुंबई हाईवे पर 1 करोड़ की चरस के साथ Yएनसीबी ने दो लोगों को गिरफ्तार किया है.(प्रतीकात्मक फोटो).

इंदौर. एनसीबी (Narcotics Control Bureau) ने इंदौर-मुंबई हाईवे से दो लोगों को चरस के साथ गिरफ्तार किया है. दोनों आरोपी चरस लेकर मुंबई के लिए निकल थे. इसी बीच एनसीबी टीम को इस बात की भनक लग गई. सूचना मिलते ही एनसीबी की टीम ने मानपुर इलाके में घेराबंदी कर बस में सवार दोनों युवक को हिरासत में ले लिया. एनसीबी को दोनों युवकों के पास से करीब एक किलो चरस मिला है, जिसकी कुल कीमत एक करोड़ के करीब बताई जा रही है. हालांकि इस मामले की आधिकारिक पुष्टि होना बाकी है.   

अब तक की जानकारी के अनुसार एनसीबी को सूचना मिली थी कि शनिवार को कोई महू से चरस लेकर मुंबई जाने वाला है. जिसके बाद एनसीबी की टीम ने महू से ही आरोपी का पीछा करना शुरू कर दिया. चार घंटे पीछा करने के बाद मानपुर पहुंचते ही दोनों आरोपी को बस से उतार कर गिरफ्तार कर लिया. थाने ले जाकर पूछताछ के दौरान आरोपियों ने माल को इंदौर में सप्लाई करने की बात स्वीकार की. आरोपियों ने एक महिला तस्कर का नाम भी बताया है. एनसीबी की टीम आरोपियों के मोबाइल की जांच करवा रही है. 

पन्ना टाइगर रिजर्व में दो बाघिनों की खूंखार फाइट, Video रोंगटे खड़े कर देगा

एनसीबी द्वारा गिरफ्तार किए गए युवकों की पहचान दौलतगंज रानीपुरा निवासी हफीज खान और अशोका कॉलोनी माणिकबाग ब्रिज निवासी अहमद हुसैन के रूप में हुआ है. पूछताछ में आरोपियों ने पती बाजार महू में रहने वाली बाजी से चरस खरीदने की बात कबूली है. जिसके बाद एनसीबी द्वारा बाजी को हिरासत में लेने की बात सामने आई है. आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि वह सिर्फ एक एजेंट है जिसका काम सिर्फ माल सप्लाय करने का होता है. 

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें