सुशांत सिंह की मौत मामले में ड्रग डीलर की तलाश में इंदौर पहुँची NCB की टीम

Smart News Team, Last updated: Wed, 24th Mar 2021, 11:53 AM IST
  • अभिनेता सुशांत सिंह की मौत के मामले में एनसीबी की टीम ड्रग डीलर की तलाश में मंगलवार देर शाम को इंदौर पहुँची. यहाँ उसने डीलर के ठिकाने पर छापा भी मारा लेकिन वह अपने घर पर नहीं मिला.
अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत

इंदौर: एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में जांच के लिए एनसीबी की टीम के अधिकारियों ने इंदौर के एमआईजी स्थित मल्टी अपार्टमेन्ट के फ्लैट नंबर 401 में छापा मारा. बताया जा रहा है कि यह फ्लैट हेमंत शाह के नाम है. रिपोर्ट्स के मुताबिक़, ड्रग डीलर हेमन्त शाह काफी अरसे तक यही इंदौर में रहता था. लेकिन कुछ सालों पहले ही गोवा शिफ्ट हो गया था. इसके बाद वह यही से अपना ड्रग डीलिंग का कारोबार चलाता था. ऐसे में यह माना जा रहा है कि, ड्रग तस्करी का पूरा काला जाल मुंबई से इंदौर के बीच फैला हुआ है. 

आपको बता दें कि सुशांत सिंह की मौत के बाद एनसीबी ने खुलासा किया था कि हेमंत शाह एमपी के इंदौर का मूल निवासी है. लेकिन वह कुछ समय पहले ही इंदौर से गोवा शिफ्मेंट हो गया था और वहीं से ड्रग का साम्राज्य फैला रखा था. एनसीबी ने इसी मामले में अन्य ड्रग डीलर रीगन और अनुज के नाम का भी खुलासा किया था. इसी कड़ी में अब एनसीबी ने मुंबई से इंदौर का रुख किया है.

इंदौर पहुंचे सीएम शिवराज बोले, सिर्फ रविवार को ही रहेगा लॉकडाउन

हेमंत शाह को इंदौर का सबसे बड़ा ड्रग स्मगलर माना जाता है. अब ऐसे में तार जुड़ते हुए दिख रहे है कि हेमंत ही इंदौर की ‘ड्रग्स की आंटी’ प्रीती जैन को कोकीन और MDMA जैसे ड्रग्स सप्लाई करता था जो कि आगे हाईप्रोफाइल लोगों को बेंचा जाता था. हेमंत खुद को इंदौर का कोकीन किंग भी बताता था. एनसीबी का मानना है कि हेमन्त शाह के नीचे कई सारे पैडलर काम करते हैं, जो उनसे ली गई ड्रग्स को अलग-अलग जगहों में बेंचते थे.

पेट्रोल डीजल आज 24 मार्च का रेट: भोपाल, इंदौर, ग्वालियर, जबलपुर में तेल की कीमतों में गिरावट

आपको बता दें कि, सुशांत सिंह की मौत के मामले में हेमंत को एनसीबी ने गोवा गिरफ्तार किया था. एनसीबी ने बताया था कि, हेमंत ही था जो अभिनेता सुशांत को ड्रग सप्लाई करता था. इसके बाद पणजी कोर्ट ने उसे 14 दिनों की ज्यूडिशियल कस्टडी में भेज दिया गया था. लेकिन मामले में जब कार्यवाही धीमी हुई तो वह पुलिस की लापरवाही के चलते इंदौर से फरार हो गया था. हेमंत को जब एनसीबी ने पकड़ा था तो उन्होंने खुलासा किया था कि हेमंत के कई अन्तराष्ट्रीय ड्रग पैडलर से ताल्लुकात थे, जिनमें से एक क्रिस कोस्टा भी मुख्य था. इसी क्रिस कोस्टा को सुशांत आत्महत्या मामले में एनसीबी ने गिरफ्तार किया था.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें