इंदौर: वकीलों के लिए आई राहत की खबर, 23 नवंबर से शुरू होगी नियमित सुनवाई

Smart News Team, Last updated: 18/11/2020 07:01 PM IST
  • इंदौर: कोरोना महामारी के बीच वकीलों के लिए एक अच्छी खबर आ रही है. दरअसल, उच्च न्यायालय ने 23 नवंबर से जिला और कुटुम्ब न्यायालयों में नियमित सुनवाई शुरू करने का निर्णय लिया है.
जिला और कुटुम्ब न्यायालयों में नियमित सुनवाई शुरू

इंदौर: कोरोना महामारी के बीच वकीलों के लिए एक अच्छी खबर आ रही है. दरअसल, उच्च न्यायालय ने 23 नवंबर से जिला और कुटुम्ब न्यायालयों में नियमित सुनवाई शुरू करने का फैसला लिया है. हालांकि, शुरुआत में यह व्यवस्था प्रयोगात्मक तौर पर केवल पांच दिसंबर तक रहेगी. आदेश के अनुसार जिन 11 प्रकार के विशेष प्रकरणों को माननीय अधीनस्थ न्यायालयों में 'एक दिन छोड़कर एक दिन" सामान्य रूप से पैरवी हेतु सुनवाई की जाना है वह यहा हैं.

एडीएम का दावा, हिस्ट्री शीटर की गाड़ी में घूमते थे कंप्यूटर बाबा

रिमांड एवं जमानत संबंधी प्रकरण, सिविल एंड क्रिमिनल अपील एवं निगरानी, जिन प्रकरणों में अभियुक्त जेल में है, आपराधिक प्रकरण जो पांच वर्ष से अधिक पुराने हैं, मोटर दुर्घटना दावा संबंधी वह प्रकरण जिनमें दावा राशि जमा करा दी गई हो, धारा 125 से 128 दंड प्रक्रिया संहिता के अंतर्गत आने वाले प्रकरण, बाल न्यायालय में बाल अपराध से संबंधित प्रकरण, दत्तक ग्रहण से संबंधित प्रकरण, जिन प्रकरणों में राजीनामा प्रस्तुत कर दिया गया हो, सिविल एवं आपराधिक प्रकृति के वह प्रकरण जिनमें माननीय उच्चतम न्यायालय या माननीय उच्च न्यायालय द्वारा निर्धारित अवधि प्रकरण का निराकरण करने का आदेश प्रदान किया गया हो, ऐसे अन्य प्रकार के समस्त प्रकरण अति आवश्यक प्रकृति के हो और माननीय न्यायालय द्वारा यह पाया जाता है कि इनकी सुनवाई अति आवश्यक रूप से की जानी चाहिए.

अपने आदेश में उच्च न्यायालय ने यह भी कहा कि संबंधित जिला एवं सत्र न्यायाधीश के विवेक पर निर्भर होगा कि जिले के प्रत्येक न्यायालय में उपरोक्त वर्णित प्रकार के कितने प्रकरण सामान्य रूप से सुनवाई हेतु नियत किए जाएं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें