चिकित्सकीय लापरवाही के कारण महिला मौत मामले में वेदांत अस्पताल को जारी हुआ नोटिस

Smart News Team, Last updated: 23/01/2021 02:42 PM IST
इलाज में लापरवाही के कारण महिला की मौत के मामले में इंदौर के वेदांत अस्पताल को सीएमएचओ द्वारा नोटिस जारी किया गया है. अस्पताल को 3 दिनों के भीतर इस नोटिस का जवाब देना होगा.
सीएमएचओ द्वारा वेदांत अस्पताल को महिला की मौत के मामले में नोटिस जारी किया गया है

इंदौर. वेदांत अस्पताल को महिला की मौत के मामले में चिकित्सकीय लापरवाही के कारण नोटिस दिया गया है. आपको बता दें कि मुख्य चिकित्सा और स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा जांच समिति की रिपोर्ट के आधार पर यह नोटिस दिया गया है. रिपोर्ट के अनुसार अस्पताल रात में आईसीयू में एक अयोग्य डॉक्टर को नियुक्त किया था.

सीएमएचओ प्रवीण जड़िया ने बताया कि जांच कमेटी की रिपोर्ट के अनुसार 24 जुलाई को वेदांत अस्पताल ने एक होम्योपैथ की नियुक्ति की थी. उसकी ड्यूटी आईसीयू में लगाई गई जहां 55 वर्षीय जागेश्वरी हार्डिया की इलाज के दौरान मौत हो गई.

इंदौर: नाले में महिला की लाश मिली, सिर गायब, शिनाख्त करना मुश्किल

जागेश्वरी की मौत के बाद परिजनों ने सीएमएचओ के पास शिकायत दर्ज कराई और शहर के विभिन्न भागों में अस्पताल के खिलाफ शिकायत करने वाले पोस्टर भी लगाए. महिला के बेटे तिलोक हार्डिया ने शिकायत में बताया कि उसकी मां एक छोटी सी बीमारी के कारण हॉस्पिटल में भर्ती हुई थी लेकिन रात को उनकी तबियत बिगड़ गई और इलाज में लापरवाही की वजह से उनकी मौत हो गई. इस बाबत सीएमएचओ ने बुधवार को अस्पताल को नोटिस जारी किया. अस्पताल को 3 दिनों के भीतर नोटिस का जवाब देना होगा.

जानकारी के अनुसार सिविल सर्जन इंदौर, डॉक्टर संतोष वर्मा जिला स्वास्थ्य अधिकारी, डॉक्टर संतोष सिसोदिया और सर्जिकल विशेषज्ञ डॉक्टर एमएस मंडलोई द्वारा हस्ताक्षरित जांच समिति की रिपोर्ट में कहा गया कि वेदांत हॉस्पिटल के निदेशक ने यह स्वीकार किया है कि घटना के दिन आईसीयू में कोई क्वालिफाइड डॉक्टर नहीं था. उस दिन एक बैचलर ऑफ होम्योपैथिक मेडिसिन एंड सर्जरी डॉक्टर ड्यूटी पर था. बीएचएमएस डॉक्टर ने महिला की तबीयत खराब होने पर उसका इलाज किया. उसे कार्डियक अरेस्ट हुआ.

इंदौर: छात्रा को नशे का डोज देते थे, होटल में ले जाकर करते थे रेप, तीन गिरफ्तार

इस ओर वेदांत हॉस्पिटल के डायरेक्टर डॉ आशीष अग्रवाल का कहना है कि हॉस्पिटल और संबंधित डॉक्टर की तरफ से कोई लापरवाही नहीं हुई है. हमें एक नोटिस मिला है और हम अपना पक्ष पेश करके इसका जवाब देंगे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें