इंदौर : एडवाइजरी के नाम पर पुलिसकर्मी को लगाई लाखों की चपत

Smart News Team, Last updated: Tue, 2nd Feb 2021, 9:17 PM IST
  • आई टी बी पी पुलिस सब इंस्पेक्टर के साथ ठगों ने शेयर मार्केट में इन्वेस्टमेंट कराकर तगड़ा प्रॉफिट कमाकर देने की लालच देकर लाखों रुपए का धोखाधड़ी किया.
एडवाइजरी के नाम पर पुलिसकर्मी को लगाई लाखों की चपत (प्रतीकात्मक तस्वीर)

इंदौर: चंडीगढ़ में पदस्थ आई टी बी पी पुलिस सब इंस्पेक्टर के साथ शेयर मार्केट में इन्वेस्टमेंट कराकर तगड़ा प्रॉफिट कमाकर देने की लालच देकर लाखों रुपए की धोखाधड़ी करने वाली जेट रिसर्च कंपनी पर पुलिस ने की छापामार कार्यवाही की. यहां मौके से ठगी के चलाया जाने वाले कॉल सेन्टर में बड़ी मात्रा में लगे कंप्यूटर उपकरण को जप्त कर यहां काम करने वाले महिलाओ और पुरुषों को पुलिस ने हिरासत में लिया.

पूरा मामला अन्नपूर्णा थाना क्षेत्र का है, जहां जेट रिसर्च कंपनी द्वारा शेयर मार्केट में ट्रेडिंग कराने के नाम पर चलाई जा रही फ़र्ज़ी एडवाइजरी कंपनी पर निवेश और डबल मुनाफा कमाने का झांसा देकर लाखों रुपए की धोखाधड़ी करने की शिकायत मिली थी. इस मामले में पुलिस ने शिकायत के बाद कंपनी पर छापा मार कर कार्यवाही की. जहां मौके से बड़ी मात्रा में कॉल सेंटर में उपयोग किये जा रहे कंप्यूटर उपकरण जप्त किये गए. साथ ही मौके से यहाँ काम करने वाले युवक-युवतियों को हिरासत में लिया गया है. बताया जा रहा है कि कंपनी के नाम पर आरोपी निखिल सोनी द्वारा शेयर मार्केट में पैसा दोगुना करने का लालच देकर उपरोक्त पुलिसकर्मी से लाखों रुपए की ठगी की गई.

इंदौर: शादी के बाद मांगी थी ऑडी, मांग न पूरी होने पर पति ने दिया तीन तलाक

 पुलिस ने मौके से युवक-युवतियों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है. फर्जी कंपनी चलाने वाला मुख्य सरगना निखिल सोनी मौके से फरार हो गया है, जिसकी तलाश में टीम जुटाई गई है. पुलिस फर्जी एडवाइजरी कंपनी चलाने वाले आरोपियों के बैंक अकाउंट को भी खंगाल रही है. कई फर्जी दिल्ली के अकाउंटस की जानकारी भी मिली है. दोगुना निवेश का झांसा देकर की गई धोखाधड़ी के रुपये खाते में जमा कराए जाते थे. फिर ऑनलाइन ट्रांजैक्शन से अलग-अलग खातों में भेज दिए जाते हैं फिलहाल पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें