राम मंदिर पर सियासत, कांग्रेस बाइक से अयोध्या ले जाएगी नदियों का जल और शिलालेख

Smart News Team, Last updated: 04/08/2020 11:43 PM IST
  • इंदौर.देश में राममंदिर को लेकर अब नई सियासत शुरू हो गई है। मध्यप्रदेश के कांग्रेसियों ने आज रामभक्त साबित करने के लिए दिन भर किया हनुमान चालिसा का पाठ। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी पाठ किया। बाइक से सात नदियों का जल ले जाने की शुरू की तैयारी
अयोध्या की राम जन्मभूमि

इंदौर। देश और दुनिया में आस्था के धाम अयोध्या की राम जन्मभूमि में पाँच अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शिलान्यास करेंगे। जिसके चलते कल का दिन भारत ही नहीं पूरी दुनिया के इतिहास में महत्वपूर्ण माना जा रहा है। उधर मध्यप्रदेश में कांग्रेस भी रामभक्ति की धुन छेड़ती नजर आ रही है।

मध्यप्रदेश सरकार पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने जहां आज हनुमान चालीसा का पाठ किया है तो वहीं प्रदेश भर में दूसरे कांग्रेसियों से भी पाठ करने की अपील की गई है। हर कोई ख़ुद को राम का भक्त साबित करने में जुट गया है। राम पर शुरू हुई सियासत में कमलनाथ पहला नाम नहीं है इसके बाद तो राजधानी में कांग्रेस के प्रदेश सचिव ने भगवान राम की पूजा कर उनके शिलालेख की विधि विधान से आरती कर राम पथ यात्रा शहर में निकाल दी।

कांग्रेस के प्रदेश सचिव विवेक खंडेलवाल ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ और पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा के निर्देश पर कांग्रेस ने इंदौर में कार्यकर्ताओं की मौजूदगी में गीता भवन स्थित राम मंदिर पर भगवान राम का विधिवत पूजन कर रामपथ यात्रा राजबाड़ा तक निकाली है। कांग्रेस अगस्त माह में ही बाइक पर सवार होकर इंदौर में रखे भगवान राम का रजत शिलालेख और सात नदियों के जल को भी अयोध्या ले जाएगी। कांग्रेसियों की मानें तो सन 1989 मे देश के पूर्व प्रधानमंत्री स्व राजीव गांधी जी ने अयोध्या में राम मंदिर के ताले खुलवा कर राम मंदिर का शिलान्यास करवाया था आज 31 साल बाद राम मंदिर निर्माण हो रहा है।

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें