उम्र कैद की सजा काट रहे कैदी ने लकड़ी काटने की मशीन से गला रेत कर की आत्महत्या

Smart News Team, Last updated: Sun, 22nd Aug 2021, 8:45 AM IST
  • इंदौर में एक कैदी ने लकड़ी काटने की मशीन से आत्महत्या कर ली. कैदी का नाम अनिल यादव है आजादलगर का रहना वाला है, वो नरसिंहपुर के एक हत्याकांड के मामले में उम्रकैद की सजा काट रहा था.
उम्र कैद की सजा काट रहे कैदी ने लकड़ी काटने की मशीन से गला रेत कर की आत्महत्या

इंदौर. इंदौर के थाना एमजी रोड के अंतर्गत केंद्रीय कारागार में हत्या के जुर्म में उम्रकैद की सजा काट रहे 48 वर्षीय बंदी ने शनिवार को लकड़ी काटने की मशीन से गला रेतकर आत्महत्या कर ली. मृतक का नाम अनिल यादव है वह शहर के आजादनगर इलाके का रहने वाला है. चश्मदीदों की माने तो केंद्रीय जेल के बढ़ई कारखाने में काम करने के दौरान बंदी अनिल यादव ने प्लाईवुड का नाप लिया और इसके बाद लकड़ी काटने की मशीन चलाकर अपना गला रेत लिया.

थाना प्रभारी डीवीएस नागर ने बताया मृतक के आत्महत्या करने की कोशिश पर जेल में बंद अन्य कैदी जितेंद्र ने उसके हाथों से मशीन छुड़ाने की कोशिश की. नाकाम होने के बाद जितेंद्र ने बिजली का स्वीच बंद कर दिया. लेकिन तब तक अनिल की मौत हो चुकी थी. साथ ही बताया  अनिल की मौत की पुष्टि ज्यादा खून बह जाने की वजह से हुई.

बेटे ने ऑनलाइन जहर मंगवाकर की आत्महत्या तो पिता ने कंपनी पर किया केस, जानिए पूरा मामला

साथ ही बताया कि पुलिस जब घटना स्थल पहुंची तो मृतक का शव जेल के बढ़ई कारखाने में खून से लथपथ पड़ा था. अनिल को 2019 में नरसिंहपुर जिले में हत्या के आरोप में उम्रकैद की सजा हुई थी. मृतक 2019  में ही नरसिंहपुर की जेल से इंदौर के केंद्रीय कारागार में शिफ्ट किया गया था. साथ ही बताया कि पुलिस सभी सक्ष्य जमा करके हर बिंदु से जांच कर रही है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें