इंदौर में कोविड संक्रमण की रफ्तार हुई धीमी, 1071 नए पॉजिटिव, 3 लोगों की मौत

Smart News Team, Last updated: Thu, 20th May 2021, 11:06 AM IST
  • इंदौर में कोविड - 19 की दूसरी लहर कमजोर पड़ती नजर आ रही है. चिकित्सा विभाग द्वारा जारी मेडिकल बुलेटिन के लिहाज से रिकवरी रेट में सुधार हो रहा है. वही अस्पतालों में बेड की उपलब्धता भी सामान्य स्थिति की ओर बढ़ रही है.
इंदौर में घट रही है कोरोना मरीजों की संख्या .

इंदौर. धीरे-धीरे मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना की दूसरी लहर का प्रभाव कमजोर होता नजर आ रहा है और ये ही वजह है कि यहां स्वास्थ्य सुविधाएं भी एक बार फिर से नियंत्रित होती नजर आ रही है.

 

बुधवार देर रात चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग जिला इंदौर द्वारा जारी किए मेडिकल बुलेटिन के मुताबिक इंदौर में बुधवार को 10156 सैम्पल की जांच की गई थी जिनमें से 9016 सैम्पल निगेटिव पाए गए. वही कोरोना संक्रमण के 1072 केस पॉजिटिव आये जिसके बाद इंदौर जिले में होम आइसोलेशन, कोविड अस्पतालों व सेंटर्स पर इलाजरत मरीजो की संख्या 11383 पहुंच गई है. वही बुधवार को 5 लोगो की मौत कोरोना के कारण हो गई और अब तक जिले में कुल मौतों का आंकड़ा 1286 तक जा पहुंचा है.

कालाबजारी के लिए इंजीनियर ने दलाल से खरीदे 50 नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन

हालांकि राहत की बात ये है कि इंदौर में रिकवरी रेट में तेजी से सुधार देखा जा रहा है. बुधवार को 2110 लोगो ने कोरोना को मात दी है और वो स्वस्थ हो चुके है. जिसके बाद अब तक इंदौर में रिकवरी रेट 91 प्रतिशत तक जा पहुंचा है.

गुरुवार सुबह मीडिया से बात कर इंदौर में कोविड - 19 के नोडल अधिकारी डॉ. अमित मालाकार ने बताया कि बुधवार का पाजीटिविटी रेट 10.5 प्रतिशत रहा है. उन्होंने बताया कि कल 5 लोगो की मौत हुई जिसके बाद अब तक कोरोना से 1286 लोगो की मौत हो चुकी है और वर्तमान में डेथ रेट 0.9 प्रतिशत हो चुका है. डॉ. मालाकार की माने तो इंदौर में रिकवरी रेट 91.1 प्रतिशत तक जा पहुंचा है। वही ऑक्सीजन बेड और सामान्य बेड की उपलब्धता धीरे धीरे सामान्य हो रही है.फिलहाल, ये कहा जा सकता है कि इंदौर के धीरे-धीरे कोविड-19 की दूसरी लहर कमजोर पड़ रही है लेकिन सावधानी अभी भी बरतना जरूरी है. लिहाजा, लोगो से अपील है कि मास्क पहने, सोशल डिस्टेसिंग का पालन करे और बार - बार हाथ धोने के साथ लक्षण दिखाई देने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें