आज से इंदौर में 8 दिन के कड़े प्रतिबंध, सब्जी और किराना दुकानें 28 मई तक बंद

Smart News Team, Last updated: Fri, 21st May 2021, 8:48 AM IST
  • आज से 28 मई तक सम्पूर्ण इन्दौर जिले में किराना तथा फल-सब्जी का विक्रय प्रतिबंधित करने के जिला प्रशासन ने जारी किए आदेश, जनता कर्फ्यू की अवधि बढ़ने के बाद लोगो मे फल एवं सब्जियों को खरीदने की मची होड़,मंडी में उड़ी सोशल डिस्टेसिंग की धज्जियां.
इंदौर में फल और सब्जी के लिए जमा लोग .

इंदौर. मध्यप्रदेश के इंदौर में गुरुवार को सीएम शिवराज सिंह चौहान ने क्राइसिस मैनेजमेंट समिति के साथ बैठक की थी जिसके तहत समूचे संभाग में 1 जून से धीरे -धीरे खोले जाने के संकेत दिए, लेकिन उन्होंने ये भी कहा मई माह के बचे दिनों में लोग जनता कर्फ्यू का पालन कड़ाई से करे. इसी का परिणाम सीएम शिवराज के भोपाल पहुंचने के बाद इंदौर में देखने को मिला.

इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह ने गुरुवार रात को ही एक आदेश जारी कर जनता कर्फ्यू को 29 मई तक बढ़ाने के साथ ही 28 मई तक जिले में ग्रॉसरी और फल व सब्जियों के विक्रय पर प्रतिबंध लगा दिया. जिसके पीछे सबसे बड़ी वजह ये सामने आई कि लोग इस दौरान बेवजह घरों से बाहर न निकले .कलेक्टर के आदेश के मुताबिक सम्पूर्ण इन्दौर जिले में फल, सब्जी का विक्रय 28 मई तक की अवधि के लिए प्रतिबंधित रहेगा. इंदौर की सबसे बड़ी थोक मंडी चोईथराम फल-सब्जी मंडी, निरंजनपुर फल-सब्जी मंडी और जिले के अन्य सभी हाट बाजार बंद रहेंगे। जहां शहरी क्षेत्र में दुकानो और सब्जी मंडियों की देख रेख में शहरी अमला जुटेगा तो दूसरी ओर ग्रामीण क्षेत्रो में एसडीएम पंचायत के माध्यम से बंद को सुनिश्चित करेंगे. कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए लागू किये गए आदेश में वाहनो से बाहर निकलने वालो कि जांच की जाएगी और यदि कोई बेवजह निकला तो उसे सीधे अस्थायी जेल भेजा जाएगा.

28 मई तक किराना और फल-सब्जी की ब्रिकी पर प्रतिबंध, जानें फल-सब्जी कहां से खरीदें

उद्योग, गोदाम, ट्रांसपोर्ट संबंधी व्यक्ति तीन टाईम स्लॉट तथा सुबह 8.30 से 10 बजें तक, शाम 6 से 7 बजें और रात्रि में 1 से 2.30 बजे तक अपने निवास से आ जा सकेंगे। इसके अलावा कोई बाहर निकला तो उस पर कार्रवाई की जाएगी. हालांकि, होम डिलेवरी लोडिंग वाहनों से दो कर्मचारियों के साथ की जा सकेगी और कर्मचारियों को पहचान पत्र रखना अनिवार्य होगा. वही दूध का घर-घर और डेयरी से वितरण सुबह 9 बजे तक और शाम को 5 से 7 बजे के बीच किया जा सकेगा. दूध वितरण के डेयरी संचालक को दुकानों के शटर आधे बंद रखने होंगे वही दूध बाहर रखकर सोशल डिस्टेसिंग या गोला बनाकर विक्रय किया जा सकेगा.

इंदौर में अचानक आये आदेश ने शहर की जनता को फिर पैनिक कर दिया. जब सब कुछ ठीक चल रहा था तभी आदेश आया कि 28 मई तक किराना दुकान, थोक, खेरची ओर सब्जी मंडी व फल मंडी पूरी तरह से बंद रहेगी. फिर क्या था शहर कि जनता बड़ी संख्या में  सब्जी खरीदने के लिए मंडी पहुंच गए. गुरुवार देर रात तक मंडी के ये हाल थे कि सोशल डिस्टेंसिंग तो दूर की बात है कई लोगो ने तो मॉस्क तक नही लगाया. लोग रात को ही सब्जियों के बोरो में भरकर दोपहिया वाहन से घर ले जाने लगे. वही इसका असर सब्जी के दामो पर भी तुरन्त आया और भाव दोगुने हो गए. इधर, बढ़ती भीड़ को देख पुलिस को मंडी में मोर्चा संभालना पड़ा. इधर, आलू और प्याज पर कालाबाजारी हावी हो गई क्योंकि आठ दिन बंद के कारण आलू प्याज की मांग ज्यादा रहेगी लिहाजा व्यापारियों ने अचानक भाव बढ़ा दिए.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें