MP में 12 जनवरी को 3 लाख युवाओं को नौकरी-रोजगार देगी शिवराज सरकार

Swati Gautam, Last updated: Wed, 5th Jan 2022, 5:16 PM IST
  • मध्य प्रदेश के युवाओं के लिए अच्छी खबर है. 12 जनवरी को शिवराज सिंह चौहान करीब 3 लाख लोगों को नौकरी-रोजगार देने की तैयारी में है. इस दिन हर जिले में रोजगार मेला लगाया जाएगा.
MP में 12 जनवरी को 3 लाख युवाओं को नौकरी-रोजगार देगी शिवराज सरकार

इंदौर. मध्यप्रदेश की शिवराज सिंह चौहान सरकार राज्य के बेरोजगारों को रोजगार के अवसर प्रदान कराने की जुगत में लगी रहती है. इसी कड़ी में शिवराज सरकार राज्य के बेरोजगार युवाओं के लिए एक और तोहफा देने जा रही है. बता दें कि प्रदेश के गृहमंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने जानकारी देते हुए बताया है कि मध्य प्रदेश कैबिनेट ने यह निर्देश दिए हैं कि राज्य में स्वामी विवेकानंद जयंती पर 12 जनवरी को सभी मंत्रियों को स्वयं या प्रभार वाले जिलों मे रोजगार मेले लगाए जाएं. इन रोजगार मेलों में राज्य सरकार द्वारा तकरीबन 3 लाख बेरोजगार लोगों को लोन स्वीकृति पत्र, रोजगार के प्रमाण पत्र बाटें जायेंगे.

बता दें कि मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दावा किया है कि प्रदेश में बेरोजगारी दर अन्य राज्यों के मुकाबले सबसे कम है. सीएम ने कहा कि यह एक खुश होने वाली खबर है. कोरोना काल में भी हमने इंफ्रास्ट्रक्चर पर खर्च बढ़ाया, जिससे रोजगार के अवसर पैदा करने में मदद मिली है. इससे अर्थव्यवस्था को भी गति मिली है. एमएसएमई से लेकर उद्योगों तक को फायदा हुआ है और एक बार फिर राज्य सरकार 12 जनवरी को प्रदेश के बेरोजगारों के लिए रोजगार के अवसर प्रदान कराने जा रही है.

इंदौर में Corona के बढ़ते मामलों के बीच जारी हो सकती नई गाइडलाइन, लग सकती है इन कामों पर रोक

गृहमंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि जब 12 जनवरी को लगने वाले रोजगार मेलों में 3 लाख लोगों को लोन स्वीकृति पत्र, रोजगार के प्रमाण पत्र बाटें जायेंगे तो यह अपने आप में एक रिकॉर्ड होगा और हम इसकी शुरुआत करने जा रहे हैं. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री कौशल विकास योजना के तहत स्वरोजगार के लिए कौशल प्रशिक्षण दिया जा रहा है जिससे हर साल 2.5 लाख युवाओं को प्रशिक्षित करने का लक्ष्य है. 15 साल से अधिक उम्र के युवा इसमें भाग ले सकते हैं. इससे जो युवा बीच में पढ़ाई छोड़ चुके हैं, उन्हें स्किल डेवलपमेंट से नौकरी या काम खोजने का अवसर मिलेगा. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें