दिव्यांग छात्रों की स्कॉलरशिप का पोर्टल शुरू, कोरोना के कारण दो साल से था बंद

ABHINAV AZAD, Last updated: Sun, 7th Nov 2021, 4:43 PM IST
  • कोरोना संक्रमण के कारण दिव्यांग विद्यार्थियों के लिए राष्ट्रीय छात्रवृत्ति का पोर्टल तकरीबन दो साल तक बंद रहा. लेकिन अब फिर ये पोर्टल शुरू हो गया है. साथ ही छात्रवृत्ति की ऑनलाइन पंजीयन की सुविधा शुरू हो गई है.
(प्रतीकात्मक फोटो)

इंदौर. दिव्यांग विद्यार्थियों के लिए राष्ट्रीय छात्रवृत्ति का पोर्टल फिर से शुरू हो गया है. अब पोर्टल पर एलिजिबल छात्र ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं. कोरोना संक्रमण के दौरान यह पोर्टल तकरीबन दो साल तक बंद रहा. इस वजह से छात्र अपने घर चले गए और आवेदन नहीं कर पाए. अब पोर्टल फिर शुरू हुआ है और छात्रवृत्ति की ऑनलाइन पंजीयन की सुविधा शुरू हो गई है. इंदौर जिले के शत-प्रतिशत दिव्यांग छात्र और छात्राओं को भारत सरकार की दिव्यांग छात्रवृत्ति की योजना से लाभान्वित किए जाने के लिए आनलाइन आवेदन की प्रक्रिया जारी है.

सामाजिक न्याय विभाग की संयुक्त संचालक सुचिता तिर्की के मुताबिक, सत्र 2021-22 के लिए जिले के सभी शासकीय, अशासकीय विद्यालयों और महाविद्यालयों में अध्ययनरत दिव्यांग छात्र और छात्राओं को प्राप्त होने वाली प्री-मैट्रिक (कक्षा 9वीं एवं 10वीं) , पोस्ट मैट्रिक (कक्षा 11वीं एवं 12वीं) और स्नातक, स्नातकोत्तर एवं अन्य सभी उच्च शिक्षा पाठयक्रम के छात्र-छात्राओं के लिए छात्रवृत्ति आवेदन के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं.

हैवानियत: पिता पड़ोसी संग मिलकर बेटी के साथ करता था रेप, प्रेग्नेंट होने पर...

बताते चलें कि आवेदक और शैक्षणिक संस्थाओं द्वारा भारत सरकार सामाजिक न्याय एवं आधिकारिता मंत्रालय के राष्ट्रीय छात्रवृत्ति के http:www.scholarships.gov.in पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं. छात्र प्री-मैट्रिक के लिए 15 नवंबर 2021 तक आवेदन कर सकते हैं. जबकि पोस्ट मैट्रिक, स्नातक, स्नातकोत्तर और अन्य सभी उच्च शिक्षा पाठयक्रम के लिए 30 नवंबर 2021 तक आवेदन कर सकते हैं. संबंधित संस्था द्वारा आनलाइन आवेदन सत्यापन करने की अंतिम तिथि 15 दिसंबर 2021 निर्धारित है. इंदौर जिले में करीब 300 दिव्यांग विद्यार्थियों को राष्ट्रीय स्तर की छात्रवृत्ति मिलती है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें